6 साल की बच्ची के रेप (rape) के आरोपी का शव मिला रेलवे ट्रैक पर मंत्री ने कहा था एनकाउंटर में मार दिया जाएगा…

6 साल की बच्ची के रेप (rape) के आरोपी का शव मिला रेलवे ट्रैक पर मंत्री ने कहा था एनकाउंटर में मार दिया जाएगा- ...

0
359
मंत्री ने कहा था
6 साल की बच्ची के रेप (rape) के आरोपी का शव मिला रेलवे ट्रैक पर मंत्री ने कहा था एनकाउंटर में मार दिया जाएगा- ...

तेलंगाना में 6 साल की बच्ची से रेप (rape) और मर्डर के आरोपी का शव रेलवे ट्रैक पर मिला है। बताया जारहा है की शव की हालत इतनी ख़राब हो गई थी कि उसकी पहचान करनी मुश्किल हो रही थी, शव पर कुछ टेटू बने हुए थे जिनके आधार पर पुलिस ने पता लगाया कि शव रेप और मर्डर के आरोपी पी राजू (30) का ही है। इस खबर कि पुष्टि तेलंगाना के डगप ने की है.
जैसे ही शव की पहचान हुई तेलंगाना पुलिस और सरकार पर विपक्ष ने आरोप लगते हुए सवाल खड़े किये है कि शव मिलने के महज 2 दिन पहले ही राज्य के श्रम मंत्री मल्ला रेड्डी ने कहा था कि हम आरोपी को एनकाउंटर में मार देंगे।

मल्ला रेड्डी ने कहा था आरोपी को एनकाउंटर में मार दिया जाएगा-
मल्ला रेड्डी मंगलवार को मेडचल-मलकाजगिरि जिले में एक इवेंट में शामिल होने पहुंचे थे। वहां वह पीड़ित परिवार से मिले और उन्होंने उनकों आश्वाशन देते हुए कहा कि वे उनकी मदद करेंगे और उनको मुआवजा भी दिया जाएगा, जब बच्ची के घर वालो ने न्याय कि मांग कि तो मल्ला रेड्डी ने कहा कि आरोपी को जल्द पकड़ा जायेगा और उसे एनकाउंटर में मार दिया जाएगा। और ऐसे एनकाउंटर की बात कहने वाले अकेले रेड्डी ही नहीं थे कांग्रेस सांसद ने भी आरोपी के एनकाउंटर की बात कही थी।

क्या है मामला ? –
आपको बता दे कि 9 सितंबर को तेलंगाना में 6 साल कि बच्ची से दुष्कर्म (Rape) कर उसकी हत्या कर दी गई थी आरोपी अपनी घटना को अंजाम देने के बाद फरार हो गया जिसको ढूंढ़ने के लिए पुलिस की 15 टीमें बनायीं गई, इन टीमों को महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश के उन इलाको में भेजा गया जहाँ से आरोपी के बारे में कोई सुराग लगने की उम्मीद थी, साथ ही साथ आरोपी के बारे में जानकारी देने वाले को 10 लाख का इनाम देने की घोसना की गई.

पहले भी हो चूका है तेलंगाना में एनकाउंटर –
27 नवंबर 2019 को अस्पताल से घर लौट रही डॉक्टर के साथ चार लॉरी ड्राइवरों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। जिसके बाद आरोपियों ने डॉक्टर की हत्या कर शव को एक पुल के निचे जला दिया गया था. पुलिस ने उसी पुल के पास आरोपियों का एनकाउंटर किया था जहाँ डॉक्टर के शव को जलाया गया था. इस एनकाउंटर के बाद लोगो ने सोशल मीडिया के जरिए पुलिस की जम कर तारीफ की थी लेकिन पुलिस के ईद तरीके पर सवाल भी उठे थे, 10 घंटे बाद तेलंगाना के पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार घटना की जिम्मेदारी लेते हुए कहा की ”वे ऐसा नहीं करना चाहते थे कानून बस अपना काम कर रहा था हम चाहते थे की आरोपी सरेंडर करें और भागे नहीं लेकिन आरोपी क्रॉस फायरिंग में मारे गए।”