युवाओं में खेल संस्कृति को बढ़ाने को प्राथमिकता दें – Shiny Wilson

0
622
  • फीफा/सीआईईएस के साथ हम खेल जगत में नए पेशेवरों को तैयार करेंगे।
  • Shiny Wilson मुंबई के पिल्लई ग्रुप और फीफा-सीआईईएस की साझेदारी से खेल प्रबंधन पर आयोजित की गई समिट में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करने आई थीं

गुरुवार को एशियाई खेलों की स्वर्ण पदक विजेता भारत की पूर्व महिला धावक Shiny Wilson ने खिलाड़ियों को जागरूक करते हुए कहा कि देश में जमीनी स्तर पर खेल संस्कृति को और मजबूत करने की आवश्यकता है।

दरअसल Shiny Wilson मुंबई के पिल्लई ग्रुप और फीफा-सीआईईएस की साझेदारी से खेल प्रबंधन पर आयोजित की गई समिट में मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करने आई थीं। इस समिट में थीम ‘खेल एवं राष्ट्र का विकास’ रखी गई थीं।
इस दौरान पिल्लई ग्रुप के चेयरमैन के.एम. वासुदेवन, भारतीय ओलम्पिक संघ (आईओए) के उपाध्यक्ष कुलदीप वत्स और स्विट्जरलैंड स्थित सीआईईएस के साइंटिफिक कोऑर्डीनेटर पेइरे लेनफ्रेंची भी उपस्थित थे।

विल्स ने कहा, “हमें जमीनी स्तर पर खेलों को और मजबूत करने की जरूरत है इसके लिए युवाओं को खेल संस्कृति के प्रति प्रेरित करना होगा। खेलो इंडिया ने इस दिशा में बहुत अच्छा कदम उठाया है जिसे आगे ले जाने की जरूरत है।”

महाराष्ट्र में 48 शिक्षण संस्थानों का मालिक पिल्लई ग्रुप फीफा/सीआईईएस के साथ मिलकर देश में खेल प्रबंधन के कोर्स का संचालन करेगा जिसकी शुरुआत इसी साल सितंबर से होगी।

इस मौके पर वासुदेवन ने कहा, “फीफा/सीआईईए के साथ की गई हमारी साझेदारी बहुत महत्वपूर्ण समय पर की गई है।

क्योंकि वर्तमान में देश में खेल संस्कृति एक नई दिशा प्रगति कर रही है।
हम पूरी उम्मीद के साथ कह सकते है कि इस साझेदारी से हम दक्षिण एशिया में खेल प्रबंधन के लीडर बनकर उभरेंगे।”

लेनफ्रेंची ने कहा, “आज के समय में भारत में खेल प्रबंधन में महारत प्राप्त करने वाले पेशेवर लोगों की मांग बढ़ गई है। फीफा/सीआईईएस के साथ हम खेल जगत में नए पेशेवरों को तैयार करेंगे। पिल्लई ग्रुप के साथ साझेदारी करना हमारे लिए बहुत अच्छी बात है।”