कांग्रेस MLA केआर रमेश कुमार ने विधानसभा में कहा, ”बलात्कार टाला ना जा सके तो लेटकर उसका मज़ा लो”…

कांग्रेस MLA केआर रमेश कुमार ने विधानसभा में कहा, ''बलात्कार टाला ना जा सके तो लेटकर उसका मज़ा लो''...

0
715
MLA
कांग्रेस MLA केआर रमेश कुमार

16 दिसंबर कर्नाटक विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष रहे केआर रमेश कुमार (MLA) ने गुरुवार को विधानसभा में रेप को लेकर एक ऐसा भद्दा बयान दिया है जिस पर बड़ा विवाद खड़ा होना तय है.

बलात्कार टाला ना जा सके तो लेटकर उसका मज़ा लो –
जब सदन में किसानों के मुद्दों पर चर्चा की मांग की जा रही थी. तब जवाब देते हुए स्पीकर विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने पूछा था कि अगर सभी को बोलने का समय दिया जाए तो वो सदन कैसे चला सकते हैं? स्पीकर ने कहा कि वो विधानसभा को नियंत्रण में नहीं कर पा रहे हैं. इसी के जवाब में रमेश कुमार (MLA) ने कहा, ”एक कहावत है, जब बलात्कार रोक ना पा रहे हों तो लेट जाओ और इसका आनंद लो. ठीक यही स्थिति है जिसमें आप हैं.”

ऐसे आपत्ति जनक बयान पर सदन में किसी ने इसका विरोध नहीं किया बल्कि इस टिप्पणी पर सभा के कुछ सदस्य आपस में ही हंसने लगे. सभी सदस्यों के साथ स्पीकर महोदय भी इस घटिया बयान पर हंस पड़े.

रमेश कुमार (MLA) की टिप्पणी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. वही ट्विटर पर लोगों ने ऐसे बयान पर आपत्ति जताते हुए कहीं कमेंट्स किये जा रहे है.

रमेश कुमार (MLA) ने मांगी माफ़ी –
जब बयान पर विवाद बढ़ा तो शुक्रवार को केआर रमेश कुमार ने माफी मांग ली. उन्होंने कर्नाटक विधानसभा में शुक्रवार को कहा, ‘अगर इससे महिलाओं की भावनाएं आहत हुई हैं, तो मुझे माफी मांगने में कोई परेशानी नहीं है. मैं तहे दिल से माफी मांगता हूं.’ रमेश कुमार (MLA) के इस बयान के बाद स्पीकर विश्वेश्वर हेगड़े कागेरी ने कहा, ‘इन्होंने अपने बयान पर माफी मांग ली है, अब इस मामले को और न खींचा जाए.’

रमेश कुमार पहले भी कर चुके हैं ऐसी टिप्पणी –
इससे पहले 2019 में भी रमेश कुमार अपनी ऐसी ही टिप्पणी की वजह से चर्चा में आए थे. तब उन्होंने कहा था कि वो एक बलात्कार पीड़िता की तरह महसूस करते हैं. रमेश कुमार ने कहा था- मेरी हालत रेप पीड़िता जैसी है. बलात्कार सिर्फ एक बार हुआ था. अगर आपने इसे वहीं छोड़ दिया होता, तो ये बीत जाता. आप शिकायत करते हैं कि बलात्कार हुआ है तो आरोपी को जेल में भेज दिया जाता है. लेकिन वकील पूछते हैं कि ये कैसे हुआ, कब हुआ, कितनी बार हुआ. रेप एक बार होता है लेकिन कोर्ट में 100 बार रेप होता है. यही मेरी हालत है.

स्मृति ईरानी ने बोला कांग्रेस पर हमला –
आज 17 दिसंबर को महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मुद्दे को लोकसभा में उठाया. लोकसभा में गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी को लेकर कांग्रेस के सांसद नारेबाजी कर रहे थे.

इसी दौरान स्मृति ईरानी ने निशाना साधते हुए कहा, ‘‘अगर आप महिलाओं का सम्मान करते हैं तो आइए यहां खड़े होकर उस व्यक्ति का विरोध कीजिए, जो ये कहता है कि अगर महिलाओं का रेप किया जाता है, तो उन्हें उसका आनंद लेना चाहिए. जो लोग यहां (संसद में) आकर विरोध करते हैं, मैं उनसे कहना चाहती हूं कि वह अपनी पार्टी के पास जाएं और उस व्यक्ति को सजा दिलाएं. फिर हम देखेंगे कि कौन महिलाओं और बच्चों को न्याय दिलाने की बात करता है.’’