Miss Universe बनी हरनाज संधू, 21 साल से था भारत को इस खिताब का इंतजार…

Miss Universe बानी हरनाज संधू, 21 साल से था भारत को इस खिताब का इंतजार...

0
234
Miss Universe
Miss Universe Harnaaz sandhu

भारत की हरनाज संधू मिस यूनिवर्स (Miss Universe) बन गई हैं। किसी भारतीय सुंदरी को यह खिताब 21 साल बाद मिला है। जीत के बाद देश के नाम एक संदेश में उन्होंने कहा- ”चक दे फट्‌टे इंडिया, चक दे फट्टे।” साल 2000 में लारा दत्ता मिस यूनिवर्स (Miss Universe) बनीं थीं। तब से भारत इस खिताब का इंतजार कर रहा था।

12 दिसंबर को इजरायल में 70वां मिस यूनिवर्स (Miss Universe) पेजेंट हुआ। जिसमे हरनाज ने 79 देशों की सुंदरियों को पीछे छोड़ते हुए मिस यूनिवर्स (Miss Universe) का ताज पहना। मिस यूनिवर्स (Miss Universe) की रनर अप मिस पराग्वे नाडिया फेरेरा और सेकेंड रनर अप मिस साउथ अफ्रीका लालेला मस्वाने रहीं। बॉलीवुड एक्ट्रेस उर्वशी रौतेला को मिस यूनिवर्स कॉन्टेस्ट को जज करने का मौका मिला था। वे भारत की तरफ से ज्यूरी टीम का हिस्सा थीं।


हरनाज संधू

चंडीगढ़ की हरनाज संधू (Miss Universe) ने हाल ही में ‘मिस दीवा मिस यूनिवर्स इंडिया 2021’ का खिताब अपने नाम किया था। इसके बाद से ही उन्होंने मिस यूनिवर्स 2021 का ताज जीतने के लिए जी-जान से मेहनत शुरू कर दी थी।


हरनाज संधू

21 साल की हरनाज पेशे से एक मॉडल हैं। उन्होंने चंडीगढ़ के शिवालिक पब्लिक स्कूल से अपनी शुरुआती पढ़ाई की है। चंडीगढ़ से ही ग्रेजुएशन करने के बाद इन दिनों वे मास्टर्स की पढ़ाई पूरी कर रही हैं। उन्होंने मॉडलिंग और कई पेजेंट में जीत हासिल करने के बावजूद पढ़ाई से दूरी नहीं बनाई।


हरनाज संधू

हरनाज के बारे में कुछ खास बातें –
पहली स्टेज परफॉर्मेंस साल 2017 में दी थी।
पेशे से मॉडल हैं हरनाज, जो कि मास्टर्स की पढ़ाई कर रहीं हैं।
हरनाज ने ‘मिस दीवा मिस यूनिवर्स इंडिया 2021’ का खिताब जीता था।
परिवार खेती या ब्यूरोक्रेसी से संबंधित रहा है। उन्होंने अपने सफर कि शुरुआत 2017 में कॉलेज में एक शो के दौरान उन्होंने पहली स्टेज परफॉर्मेंस देकर की थी। हरनाज ने डांसिंग, तैराकी, एक्टिंग, घुड़सवारी और घूमने का बेहद शौक है। वो भविष्य में मौका मिलने पर फिल्मों में भी काम करना चाहती हैं।

हरनाज के नाम ख़िताब –
2017: टाइम्स फ्रेश फेस मिस चंडीगढ़
2018: मिस मैक्स इमर्जिंग स्टार
2019: फेमिना मिस इंडिया पंजाब
2021: मिस यूनिवर्स इंडिया

एक इंटरव्यू में हरनाज ने बताया था कि वे अपनी पसंद की हर चीज खाती हैं। इन सब के बावजूद वर्कआउट करना नहीं भूलतीं। उनका मानना है कि सभी को अपने मन का खाना खाना चाहिए, लेकिन वर्कआउट करना नहीं छोड़ना चाहिए।

17 साल की उम्र तक हरनाज काफी इंट्रोवर्ट हुआ करती थीं। स्कूल में उनके दुबलेपन का मजाक भी बनाया जाता था। इस वजह से कुछ समय के लिए वे डिप्रेशन में रहीं, लेकिन परिवार ने हमेशा उन्हें सपोर्ट किया। वे फूडी हैं पर फिटनेस का भी ख्याल रखती हैं।

इन फिल्मों दिख चुकी हैं हरनाज –
हरनाज पेजेंट की तैयारी करने के साथ-साथ कई फिल्मों में भी काम कर चुकी हैं। उन्होंने ‘यारा दियां पू बारां’ और ‘बाई जी कुट्टांगे’ जैसी फिल्मों में काम किया है।

चक दे फट्‌टे का मतलब क्या है –
पंजाबी में चक दे का मतलब उठा लेना और फट्‌टे का मतलब लकड़ी के पटियानुमा टुकड़े। इस वाक्य के पीछे एक किस्सा बताया जाता है। कहते हैं कि जब सिखों और मुगलों की जंग होती थी तो सिख गहराई वाली जगहों जैसे नहर-नाले पर फट्‌टे रखकर उन्हें पार करते थे। इसके बाद उन्हें निर्देश दिया जाता था कि ‘चक दे फट्‌टे’ यानी लकड़ियां उठा लो, ताकि दुश्मन नहर-नाले के इस पार न आ पाए। यह जीत का प्रतीक था। बाद में यह मुहावरे की तरह प्रयोग किया जाने लगा। बाद में यह वाक्य हौसला बढ़ाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाने लगा।