Oscars 2022: में इतिहास बनाया इन महिलाओं ने जानिए…

Oscars 2022: में इतिहास बनाया इन महिलाओं ने जानिए...

0
851
Oscars
Ariana De Bose

ऑस्कर्स (Oscars) अवॉर्ड्स. इसे सिनेमा का सबसे बड़ा सम्मान माना जाता है. कई रिकॉर्ड बने व कई बने लेकिन शो बिच में कुछ ऐसा हुआ जिसके कारन सनसनी फ़ैल गई. दरअशल हुआ यूँ कि विल स्मिथ का क्रिस रॉक को थप्पड़. वीडियो वायरल हुआ, मीम्स बने, पक्ष बंट गए, लेकिन कुल मिला कर थप्पड़ ही पूरे ऑस्कर्स (Oscars) का टॉकिंग पॉइंट बन गया. वही बात करे कुछ ऐसी चीजों कि जो हमे जननी चाहिए, एक महिला को बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड दिया गया. ऑस्कर (Oscars) के 94 साल के इतिहास में केवल तीसरी बार. पहली बार LGBTQIA समुदाय की एक नॉन व्हाइट महिला को अवॉर्ड दिया गया और पहली बार तीन महिलाओं ने अवॉर्ड सेरेमनी को होस्ट किया.

एरियाना डीबोस: बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस अवॉर्ड –
94वें अकादमी अवॉर्ड्स में एरियाना डीबोस (Ariana De Bose) को बेस्ट ऐक्ट्रेस का अवॉर्ड मिला. एरियाना को स्टीवन स्पीलबर्ग डायरेक्टेड ‘वेस्ट साइड स्टोरी’ (2021) के लिए पुरस्कार मिला है. फिल्म ‘वेस्ट साइड स्टोरी’ की कहानी क्लासिक “रोमियो एंड जूलियट” का एक मॉडर्न म्यूज़िकल अडैप्टेशन है. शार्क और जेट नाम के दो गैंग्स हैं, जो एक ही टेरिटरी के लिए लड़ते हैं. शार्क गैंग की मारिया को जेट गैंग के टोनी से प्यार हो जाता है, लेकिन समस्या ये है कि गैंग्स की अदावत के चलते उन्हें कभी एक साथ रहने की अनुमति नहीं दी जा सकती. आगे आप समझ गए होंगे. एरियाना ने फिल्म में अनीता का किरदार निभाया है, जो कि मारिया की दोस्त है. इसी किरदार के लिए एरियाना को ऑस्कर मिला है.

Ariana De Bose

एरियाना का किरदार –
एरियाना ने वेस्ट साइड स्टोरी में अनीता का किरदार निभाया है, जो लीड ऐक्ट्रेस मारिया के भाई की गर्लफ़्रेंड और मारिया की दोस्त है.
डीबोस पहली क्वियर एफ्रो-लैटिन महिला हैं जिन्होंने ऑस्कर अवॉर्ड्स (Oscars) जीता है. एरियाना ने अपने शुरुआती दिनों के संघर्ष को याद करते हुए कहा,

“एक सफेद फोर्ड फोकस की पिछली सीट पर इस छोटी लड़की की कल्पना करिए, उसकी आंखों में देखिए. आपको एक क्वियर अश्वेत महिला दिखेगी. एक एफ्रो-लैटिना, जिसने कला के माध्यम से जीवन में अपनी ताक़त पाई. मुझे लगता है कि हम यहां इसी का जश्न मनाने आए हैं. जिस किसी ने भी कभी आपकी पहचान पर सवाल उठाया है, कभी भी, कहीं भी, या आप ख़ुद को ग्रे स्पेस में पाते हैं, मैं आपसे यह वादा करती हूं, ये जगह हमारे लिए है.”

वैसे आपको यह और बता दे कि एरियाना ने इस रोल के लिए चार बार मना किया था. कास्टिंग डायरेक्टर टोलन ने जनवरी में वैरायटी को बताया,

“मैंने उसे इस रोल के लिए कहा और उसने मना कर दिया. उसने चार बार मना किया. वो ख़ुद को अनीता के रूप में नहीं देख पा रही थी और मुझे उसे मनाने के लिए कैमरा पर्सन और डायरेक्टर से बात करनी पड़ी.”

और किन महिलाओं ने जीता ऑस्कर –
पहली बार, दो महिला फिल्म निर्माताओं ने ऑस्कर (Oscars) में बेस्ट बेस्ट जीता है. बेस्ट डायरेक्टर और बेस्ट फिल्म. ‘द पावर ऑफ़ द डॉग’ के लिए जेन कैंपियन को बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला. वो 94वें साल के इतिहास में बेस्ट डायरेक्टर बनने वाली तीसरी ही महिला हैं. बेस्ट पिक्चर का अवॉर्ड ‘CODA’ ने जीता और निर्माताओं को अवॉर्ड सौंपने की परंपरा को तोड़ते हुए फ़िल्म के निर्देशक सियान हेडर ने पुरस्कार रिसीव किया. न्यूज़ीलैंड की कैंपियन भी दूसरी बार सर्वश्रेष्ठ निर्देशक के लिए नामांकित होने वाली पहली महिला बनीं. उन्हें 1994 में ‘द पियानो’ के लिए नॉमिनेट किया गया था, 1994 में फ़िल्म ने ओरिजनल स्क्रीनप्ले जीता था. उस साल स्टीवन स्पीलबर्ग को ‘शिंडलर्स लिस्ट’ के लिए बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला था.

ये ऑस्कर के इतिहास में पहली बार है कि दो साल लगातार महिलाओं को बेस्ट डायरेक्टर अवॉर्ड मिला है. पिछले साल क्लोइ ज़ाओ को ‘नोमैडलैंड’ के लिए बेस्ट डायरेक्टर का अवॉर्ड मिला था. टू मच इतिहास. बेस्ट डायरेक्टर जीतने वाली पहली महिला कैथरीन बिगेलो थीं, जिन्हें 2010 में ‘द हर्ट लॉकर’ के लिए पुरस्कार मिला था.