Yoga: इन महिलाओं ने योग अपनाया खूबसूरत और स्वस्थ तन पाया

Yoga: इन महिलाओं ने योग अपनाया खूबसूरत और स्वस्थ तन पाया

0
164
Yoga
Yoga इन महिलाओं ने योग अपनाया खूबसूरत और स्वस्थ तन पाया

21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International yoga day) भारत में ही नही बल्कि दुनिया में मनाया जाता है. योग मानव शरीर की एक ऐसी जरूरत है जिसे हजारों फायदे होते हैं. योग मानव सभ्यता की एक ऐसी देन है जो आपको स्वस्थ रहने में मदद करती है. इसे नजरांदाज करना आपकी सेहत के साथ धोखा करना है. आज हम यह जानने की कोशिश करते है कि योग (yoga) सीखने और सिखाने में किन महिलाओं ने महारत हांसिल की है.

महिलाओं के लिए योग का महत्व

परिवार और घर का प्रबंधन करते समय, महिलाएं अक्सर अपने स्वास्थ्य की उपेक्षा करती हैं जिससे उन्हें मानसिक और शारीरिक समस्याएं, जीवनशैली से जुड़ी समस्याएं और पीसीओएस जैसे हार्मोनल डिसआर्डर, थायराइड डिसआर्डर, मोटापा, तनाव और एंग्जाइटी हो सकती है। मन, शरीर और आत्मा के संतुलन को बनाए रखने के लिए योगाभ्यास करना आवश्यक है। यह जीवन के सभी पहलुओं में संतुलन लाने में मदद करता है। स्वस्थ तन और मन से व्यक्ति अपना और परिवार का भी अच्छे से ख्याल रख सकता है। चलिए बताते है बॉलीवुड की कुछ एक्ट्रेस के बारे में जिन्होंने योग के साथ अपने शरीर का संतुलन बनाये रखे है, और अपनी खूबसूरती बरक़रार रखे हुए है.

वो महिलायें जिन्होंने योग को दिया महत्त्व

मानसिक, शारीरिक और भावनात्‍मक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए योग (yoga) अत्‍यंत आवश्‍यक है। कहीं ना कहीं हम सभी जानते हैं कि योग सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है यह जानने के बावजूद हम इसे अपनी जीवनशैली में शामिल नहीं करते हैं। लेकिन कुछ सिलेब्रिटी मॉम्‍स ऐसी हैं जो अपने बिजी शेड्यूल के बावजूद रोज योग (yoga) करती हैं और कुछ एक्‍ट्रेसेस ने तो प्रेग्‍नेंसी तक में योग (yoga) किया था।

​शिल्‍पा शेट्टी (Shipa Shetty) : हमेशा अपने फिगर को मेंटेन रखा.

सुन्दर और हमेशा स्वस्थ दिखने वाली शिल्‍पा शेट्टी (Shipa Shetty) को तो आप योग (yoga) गुरु भी की सकते हैं। शिल्‍पा (Shipa Shetty) ने 18 साल की उम्र में ही योग करना शुरू कर दिया था और आज तक योगाभ्‍यास करना बंद नहीं किया है। शिल्‍पा (Shipa Shetty) हफ्ते में तीन बार योग (yoga) करती हैं और उन्‍हें भुजंगासन, वक्रासन, नौकासन और अधो मुख शवासन करना पसंद है। अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार शिल्‍पा (Shipa Shetty) अपने बेटे को भी योग करवाती हैं।

जहां बात योग (yoga) की आती है तो बाबा रामदेव के बाद उन्हीं का नाम जहन में आता है। शिल्पा (Shipa Shetty) की उम्र 40 साल से ऊपर हो चुकी है लेकिन फिटनेस के मामले में वो आज की हीरोइनों को टक्कर देती हैं। माना जाता है कि महिलायें प्रेगनेंसी के बाद मोती दिखने लगती है लेकिन, शिल्पा हमेशा से ही अपनी पतली कमर के लिए जानी जाती हैं उन्होंने उनके बेटे विआन का जन्म होने बाद भी अपने फिगर को मेंटेन रखा.

शिल्पा शेट्टी (Shipa Shetty) अक्सर ही अपने योग (yoga) के वीडियो फैंस के साथ शेयर करती रहती हैं और उन्हें फिटनेस के नए-नए फंडे सिखाती रहती हैं। उन्होंने ‘द ग्रेट इंडियन डाइट’ नाम से एक किताब निकाली है और योग पर ‘Shilpa’s yoga’ नाम की डीवीडी उन्होंने लॉन्च की थी। आपको बता दे कि शिल्पा शेट्टी बाबा रामदेव के साथ योगा करते नजर आई थीं। वो एक खास काम से बाबा के पास पहुंची थीं लेकिन रामदेव ने उन्हें देर तक योगा (yoga) कराया।

अनुष्‍का शर्मा (Anushka Sharma)

अनुष्‍का शर्मा (Anushka Sharma) ने अपने प्रेग्‍नेंसी के दिनों में शीर्षासन करते हुए अवनी एक फोटो पोस्‍ट की थी। यह आसन काफी मुश्किल होता है और वही व्‍यक्‍ति कर सकता है जिसे योग (yoga) की प्रैक्टिस हो। अनुष्‍का (Anushka Sharma) को इस पोज को करते हुए देखकर आप साफ समझ सकते हैं कि अनुष्‍का (Anushka Sharma) ने प्रेग्‍नेंसी में रोज योग किया है और कहीं ना कहीं उनकी हेल्‍दी प्रेग्‍नेंसी में इससे फायदा भी मिला है।

​सोहा अली खान (Soha Ali Khan)

सोहा अली खान (Soha Ali Khan) को योग करना बहुत पसंद है। सोहा (Soha Ali Khan) ने प्रेग्‍नेंसी में योग की मदद से अपनी बॉडी को लेबर और हार्मोनल उतार-चढ़ाव के लिए तैयार किया था। भाभी करीना की तरह सोहा (Soha Ali Khan) ने भी प्रेग्‍नेंसी में योग किया है।

​करीना कपूर खान (kareena kapoor khan)

जीरो फिगर के लिए भी करीना (kareena kapoor khan) ने योग की मदद ली थी और जब वो प्रेगनेंट थी तो भी योग किया करती थीं। अपने एक इंटरव्‍यू में करीना ने कहा था कि वो पूरी तरह से योग में हैं। योग ने उनकी जिंदगी बदल दी। वो रोज एक या आधा घंटा योग करती हैं।

​नेहा धूपिया (Neha Dhupia)

Neha Dhupia (Photo – instagram)

हाल ही में नेहा धूपिया (Neha Dhupia) ने अपने बच्‍चों के साथ योग करते हुए अपनी कुछ तस्‍वीरें पोस्‍ट की हैं। इंस्‍टाग्राम पर अपनी पोस्‍ट में नेहा ने लिखा है ‘लोग कहते हैं मातृत्व में संतुलन बहुत जरूरी है…. हम हमेशा इस तरह से संतुलन बनाने की कोशिश करते हैं… फिर चाहे वो योग हो या लाइफ।

​काजल अग्रवाल (Kajal Agrawal)

साउथ एक्‍ट्रेस काजल अग्रवाल (Kajal Agrawal) ने अप्रैल के महीने में बेबी बॉय को जन्‍म दिया है। काजल (Kajal Agrawal) ने भी प्रीनेटल योग किया है।

300 महिलाओं को योग सिखा चुकी हैं नीलम (Neelam Sharma)

औबेदुल्लागंज की एक बेटी भोपाल की महिलाओं को भी योग सिखाते हुए नियमित योगाभ्यास करने के लिए प्रेरित कर रही हैं। औबेदुल्लागंज के हिरानिया निवासी नीलम (Neelam Sharma) की शादी भोपाल में हुई है। नीलम (Neelam Sharma) औबेदुल्लागंज में शिक्षिका रही हैं और अब भोपाल में महिलाओं को योग सिखाती हैं। नीलम शर्मा (Neelam Sharma) नेहरू नगर में चार साल से महिलाओं को योग सिखा रही है। वह रोजाना 50 महिलाओं को प्राणयाम, सूर्यनमस्कार व योग आसन सिखाती हैं। नीलम (Neelam Sharma) से योगा सीखने 14 साल से लेकर 74 साल तक की बुजुर्ग महिलाएं आती हैं। इसमें पुलिस, डॉक्टर, शिक्षिका, इंजनियर, गृहिणी महिलाएं शामिल हैं। अब तक वह करीब तीन सौ महिलाओं को योग सिखा चुकी हैं। आपको बता दे कि नीलम शर्मा (Neelam Sharma) अब तक 300 महिलाओं को योग सिखा चुकी हैं.

योग का इतिहास (History of Yoga)

History of yoga

सबसे पहले हम बात करते है योग की, भारत में योग का इतिहास लगभग 5000 साल पुराना है. मानसिक, शारीरिक एवं अध्यात्म के रूप में लोग प्राचीन काल से ही इसका अभ्यास करते आ रहे हैं. अगस्त नामक सप्त‌ऋषि ने ही पूरे भारतीय उपमहाद्वीप का दौरा कर यौगिक तरीके से जीवन जीने की संस्कृति को गढ़ा था. योग (yoga) की उत्पत्ति सर्वप्रथम भारत में ही हुई थी इसके बाद यह दुनिया के अन्य देशों में लोकप्रिय हुआ. योग (yoga) की बात होती है तो पतंजलि का नाम प्रमुखता से लिया जाता है। क्योंकि पतंजलि ही पहले और एकमात्र ऐसे व्यक्ति थे जिन्होंने योग (yoga) को आस्था, अंधविश्वास और धर्म से बाहर निकालकर एक सुव्यवस्थित रूप दिया था. योग (yoga) भारत की प्राचीन परम्परा का एक अमूल्य उपहार है जो न केवल देश में बल्कि एशिया, मध्यपूर्व, उत्तरी अफ्रीका एवं दक्षिण अमेरिका सहित विश्व के भिन्न- भिन्न भागों में फैला हुआ है.

कौन थे महर्षि पतंजलि ?


महर्षि पतंजलि

योग (yoga) के जनक महर्षि पतंजलि के जन्म से जुड़ी काफी विश्वसनीय जानकारियां नहीं मिलती हैं. इस बारे में अलग-अलग बातें हैं. हालांकि कई जगहों पर जिक्र है कि वे पुष्यमित्र शुंग (195-142 ई.पू.) के शासनकाल में हुए थे. उत्तरप्रदेश के गोंडा में जन्मे पतंजलि आगे चलकर काशी में बस गए. काशी में पतंजलि पर इतनी आस्था था कि उन्हें मनुष्य न मानकर शेषनाग का अवतार माना जाने लगा.

भारत से योग दिवस की पहल

27 सितम्बर 2014 को भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सयुंक्त राष्ट्र महासभा में योग (yoga) की पहल की. इसके बाद 11 दिसम्बर 2014 को सयुंक्त राष्ट्र में 177 सदस्यों द्वारा 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मंजूरी मिली. पहली बार 21 जून 2015 को यह दिवस मनाया गया, माना जाता है कि 21 जून वर्ष का सबसे बड़ा दिन होता है और योग (yoga) भी मनुष्य की आयु को बढ़ाता है.

योग के फायदे

योग (yoga) के फायदे बच्चों से लगाकर बुजूर्गों, महिलाओं एव गर्भवती महिलाओं सभी को होते है. योग (yoga) में हजारों बीमारियों को ठीक करने के गुण छुपे हुए हैं. दैनिक जीवन में योग का अभ्यास करना हमें भयानक बीमारियों जैसे- कैंसर, मधुमेह (डायबिटीज़), उच्च व निम्न रक्त दाब, हृदय रोग, किडनी का खराब होना, लीवर का खराब होना, गले की समस्याओं तथा अन्य बहुत सी मानसिक बीमारियों से भी हमारी रक्षा करता है. इस बात को देश-विदेश के चिकित्सक तक मान चुकें हैं. जो बीमारियां दवाइयों से ठीक नहीं हो पाती उनका इलाज भी योग (yoga) में सम्भ्व है. नियमित योग करने से शरीर के सभी अंग सुचारू रूप से कार्य करने लगते हैं, योग (yoga) के विभिन्न आसनों से शरीर के अलग-अलग हिस्सों को फायदा पहुचंता है. यह गर्भवती महिलाओं के लिए भी काफी फायदेमंद होता है, इससे बच्चा और माँ दोनों स्वस्थ रहते है.

योग में शरीर के हर छोटे से छोटे अंग का व्यायाम होता है जिससे फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ती है. छोटे व्यक्ति से लेकर बुजुर्ग व्यक्ति तक कोई भी आसान कर सकता है. इसके द्वारा मनुष्य के अंदर की नकारात्मकता को खत्म किया जा सकता है. योग तन के अलावा मन को भी शांति देता है. योग के कई आसान व ध्यान आपके विचारों को नियंत्रित करता है जिससे मन शांत रहता है. तो नियमित रूप से व्यायाम करें, स्वस्थ रहे और अपनी सुंदरता बनाये रखे.