कौन हैं Nupur Sharma जिन्हे मुस्लिम कट्टरपंथी ने दी जान से मारने की धमकी, बयान पर मचा बवाल…

कौन हैं Nupur Sharma जिन्हे मुस्लिम कट्टरपंथी ने दी जान से मारने की धमकी, बयान पर मचा बवाल...

0
134
Nupur Sharma
कौन हैं Nupur Sharma जिन्हे मुस्लिम कट्टरपंथी ने दी जान से मारने की धमकी, बयान पर मचा बवाल...

Nupur Sharma Controversy: बीजेपी की निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) के पैगंबर मोहम्मद पर दिए बयान के विरोध में शुक्रवार को देश में कई शहरों में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शन हुए। दिल्ली की जामा मस्जिद, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर, हैदराबाद, प्रयागराज, मुरादाबाद, लखनऊ और पश्चिम बंगाल के हावड़ा में मुसलमानों ने जुम्मे की नमाज के बाद विरोध-प्रदर्शन किया। कुछ जगहों पर नमाजियों ने पुलिस पर पथराव भी किया, जिसके जवाब में सुरक्षा बलों को कुछ स्थानों पर लाठी चार्ज करने, आंसू गैस के गोले छोड़ने तथा हवा में गोलियां चलानी पड़ी।

जम्मू में लगा कर्फ्यू, कश्मीर घाटी के कुछ हिस्सों में बंद जैसी स्थिति

जम्मू में अधिकारियों ने कुछ इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया और कश्मीर घाटी के कुछ हिस्सों में बंद जैसी स्थिति रही। वहीं, झारखंड की राजधानी रांची के कुछ हिस्सों में धारा 144 लगा दी गई। प्रदर्शनकारियों ने नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) और नवीन जिंदल की गिरफ्तारी की मांग की। दिल्ली में जामा मस्जिद के बाहर नमाज के बाद बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हुए और जमा हुए लोगो के द्वारा प्रदर्शन किया गया। हालांकि, जामा मस्जिद के शाही इमाम ने प्रदर्शनकारियों से अपनी दूरी बनाते हुए कहा, ‘कोई नहीं जानता है कि प्रदर्शनकारी कौन थे’ और उन्होंने इस तरह के लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

बिरयानी खिलाई गई और फिर पत्थर फिंकवाए गए

प्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया, जिसके बाद पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े गये। उत्तर प्रदेश के तमाम शहरों में बवाल हुआ जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को आदेश दिया है कि जहां-जहां शांति व्यवस्था भंग करने की कोशिश हो रही है, वहां कड़ी कार्रवाई की जाए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि ऐसी व्यवस्था बनाई जाए कि सुरक्षा व्यवस्था से कहीं कोई खिलवाड़ न कर पाए, और इसके लिए कड़ी निगरानी की जाए। प्रयागराज के एडीजी प्रेम प्रकाश ने बताया कि शहर में हुई हिंसा में ओवैसी की पार्टी के महानगर अध्यक्ष का हाथ है। उनका कहना है कि बिरयानी के स्टॉल्स के पास बच्चों को इकट्ठा किया गया, बिरयानी खिलाई गई और फिर पत्थर फिंकवाए गए। ADG ने कहा कि अब इन सब पर NSA लगेगा।

‘नूपुर शर्मा को फांसी दे देनी चाहिए’

AIMIM सांसद इम्तियाज जलील ने औरंगाबाद में प्रदर्शन के दौरान कहा कि नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को फांसी दे देनी चाहिए. अगर उन्हें आसानी से छोड़ दिया गया तो कभी भी ऐसी चीजें नहीं रूकेंगी। इम्तियाज जलील का कहा कि आज सरकार ने कतर और कुवैत की ताकत देखी है। जलील ने कहा, ‘इस्लाम अमन का मजहब है, लोग गुस्से में हैं। उन लोगों को सजा देने के लिए एक कानून बनाने की जरूरत है जो धार्मिक भावनाएं आहत करते हैं। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने इस कानून के बारे में संसद में अपनी आवाज उठायेंगे या हम सड़कों पर उतरेंगे।’

वहीं, उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में जुमे की नमाज के बाद नमाजियों ने सड़क जाम कर दिया, और जबरन दुकानों को बंद कराने को लेकर तोड़फोड़ की। नमाज के बाद प्रदर्शनकारियों ने जुलूस की शक्ल में नारेबाजी की और घंटाघर के पास पहुंचकर जमकर हंगामा किया। जवाब में पुलिस ने नमाजियों पर लाठीचार्ज कर दी जिसके बाद भगदड़ मच गई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अब सहारनपुर में स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। मुरादाबाद में भी नमाजियों ने बवाल मचाया और ‘नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को फांसी दो’ के नारे लगाए। इसके अलावा हैदराबाद और पश्चिम बंगाल के हावड़ा में भी नमाजियों ने प्रदर्शन किया।

मामले में यूपी से कुल 136 लोग गिरफ्तार

इंडिया टीवी की संवाददाता रुचि कुमार का कहना है कि शुक्रवार को उत्तर प्रदेश में हुई हिंसा के मामले में यूपी में कुल 136 लोग गिरफ्तार किए गए। इनमें 45 सहारनपुर, 37 प्रयागराज, 20 हाथरस, 07 मुरादाबाद, 04 फिरोजाबाद, 23 अंबेडकरनगर से गिरफ्तार किए गए हैं। उत्तर प्रदेश के DGP डीएस चौहान ने दावा किया कि, ‘राज्य में किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए उचित व्यवस्था की गई है। हम हिंसा में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। हमारी सहयोगी रैपिड एक्शन फोर्स (RAF) के एक जवान को मुंह पर पत्थर लगा था और उसका इलाज चल रहा है। वह खतरे से बाहर है।’

हावड़ा में इंटरनेट सेवा सस्पेंड

sudhanshu maheshwari की रिपोर्ट के अनुसार हावड़ा में 13 जून तक के लिए इंटरनेट सेवा को सस्पेंड कर दिया गया है. आज हावड़ा में नूपुर (Nupur Sharma) के बयान के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया गया था. उस प्रदर्शन ने हिंसक रूप ले लिया और फिर पुलिस को आंसू गैस के गोले दागने पड़े. अभी जमीन पर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है.

बांग्लादेश तक पहुंचा बवाल, ढाका में प्रदर्शन

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) के बयान के खिलाफ प्रदर्शन किया गया है. शुक्रवार की नमाज के बाद हजारों की संख्या में लोगों ने सड़क पर प्रदर्शन किया, नूपुर के खिलाफ नारेबाजी की और भारत सरकार को भी घेरा. 16 जून को भारतीय दूतावास को घेरने की बात भी कही गई.

कौन हैं नूपुर शर्मा

दोस्तों जैसा की आप जानते ही होंगें की हाल ही में देश की सत्तारूढ़ पॉलिटिकल पार्टी बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता Nupur Sharma के द्वारा एक टीवी डिबेट के शो में मुस्लिमों के द्वारा पूजे जाने वाले पैगंबर मोहम्मद के बारे में कुछ अपमान जनक टिपण्णी की थी जिसके बाद से उत्तर प्रदेश के कानपुर में हिंसा भड़की और कई लोगों के घायल एवं मारे जाने की खबरें भी आयी। ठीक दूसरी तरफ नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) अपने दिए गए बयान के कारण देश के मुस्लिम संगठनों और मुस्लिम कट्टर पंथियों के निशाने पर आ गयी हैं। बार-बार नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) को मुस्लिम संगठनों के द्वारा मारे जाने / सिर कलम किये जाने की धमकी दी जा रही है। परन्तु क्या आप जानते हैं Nupur Sharma Kaun Hai, वह देश की सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी से कैसे जुड़ी।

आपको बता दें की अपने दिए गए बयान के कारण Nupur Sharma को अपने प्रवक्ता पद (National Spokesperson of The Bharatiya Janata Party) से इस्तीफा देना पड़ा। इस्तीफा देने के साथ ही पार्टी ने उन्हें 6 साल के लिए निलंबित भी कर दिया है। हालाँकि आपको बता दें की बयान आने के बाद नूपुर ने पार्टी को एक लेटर लिखकर अपनी सफाई देने की कोशिश भी की पर इसका कुछ ख़ास फायदा नहीं हुआ।

नूपुर शर्मा जीवन परिचय

नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) का जन्म 23 अप्रैल सन 1985 को भारत के नई दिल्ली में हुआ। बचपन से ही तेज और प्रखर स्वभाव की नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) ने अपनी प्रारम्भिक पढ़ाई दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) से की। अपनी स्कूल की पढ़ाई पूरी करने के बाद नूपुर ने दिल्ली युनिवर्सिटी के हिन्दू कॉलेज से अपनी स्नातक की पढ़ाई पूरी की। आपको बता दें की नूपुर ने स्नातक में अर्थशात्र में (ऑनर्स) की डिग्री प्राप्त की है। इसके बाद नूपुर ने लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से मास्टर ऑफ़ लॉस (Master of Laws) से मास्टर किया।

नूपुर शर्मा का राजनीतिक करियर

नूपुर कॉलेज से ही अपने पोलिटिकल करियर की शुरुआत कर दी थी। दिल्ली में कॉलेज के समय में नूपुर पोलिटिकल काफी एक्टिव रहीं। वर्ष 2008 में नूपुर ने कॉलेज में रहते हुए अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) की तरफ से दिल्ली यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स यूनियन (डीयूएसयू) का चुनाव लड़ा और अध्यक्ष पद के लिए चुनी गयीं। इसके बाद 2010 में छात्र राजनीति में रहते हुए भारतीय जनता पार्टी के युवा मोर्चा में काफी सक्रिय रहीं। जिसके बाद 2015 में नूपुर बीजेपी से जुड़ीं। पार्टी से जुड़ने के बाद उन्हें पार्टी का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया गया। इसके बाद बीजेपी ने नूपुर को दिल्ली में होने वाले विधान सभा चुनाव में अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ खड़ा किया लेकिन चुनाव के नतीजे आने के बाद नूपुर को हार का सामना करना पड़ा। यहां आपको बता दें की पेशे से वकील नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) दिल्ली के हाई कोर्ट में अपनी प्रैक्टिस करती हैं.

नूपुर शर्मा का विवादित बयान

मीडिया की खबरों के अनुसार देश के सुप्रतिष्ठित टीवी चैनल टाइम्स नाउ के प्राइम टाइम के डिबेट शो में ज्ञानवापी मस्जिद के मुद्दे पर बहस चल रही थी। जिसमें नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) के द्वारा कहा गया की कई कुछ कट्टरपंथी सगंठनों के द्वारा हिन्दू आस्था का मजाक उड़ाया जाता है। जिसके बाद विवादित बयान मोहम्मद पैगम्बर के ऊपर भी दिया और इस्लामिक कटटर मान्यताओं का जिक्र किया। देश के समाज सेवी और नेता मोहम्मद जुबैर ने नूपुर का वीडियो ट्विटर पर शेयर कर FIR दर्ज कर कानूनी कार्यवाही करने की मांग की। हालाँकि बाद में नूपुर ने आपने बयान के लिए माफ़ी भी मांगी। जिसके बाद से ही नूपुर को मुस्लिम कट्टरपंथी संगठनों के द्वारा जान से मारे जाने की धमकियां दी जाने लगीं।