9 साल की बच्ची से दुष्कर्म, दुष्कर्म के खिलाफ महिलायें व अभिभावक उतरे सड़को पर…

9 साल की बच्ची से दुष्कर्म, दुष्कर्म के खिलाफ महिलायें व अभिभावक उतरे सड़को पर...

0
802
महिलायें
9 साल की बच्ची से दुष्कर्म, दुष्कर्म के खिलाफ महिलायें व अभिभावक उतरे सड़को पर...

वाराणसी. सनबीम स्कूल, लहरतार में पिछले दिनों एक छात्रा के साथ दुष्कर्म हुआ, जिसके खिलाफ लोगों का गुस्सा लगातार बढ़ता जा रहा है। मामले में अभिभावक और खास तौर पर महिलायें सड़क पर उतरने लगी हैं। रविवार को बड़ी तादाद में महिलाओं व अभिभावको द्वारा विरोध मार्च निकाला। विरोध मार्च में शामिल महिला अभिभावको ने सनबीम स्कूल समूह के चेयरमैन के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की। वो दोषी स्कूल प्रशासन-प्रबंधन के विरुद्ध अविलंब सख्त कार्रवाई की मांग कर रही थीं।

क्या है? पूरा मामला –
स्कूल परिसर में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के खिलाफ विरोध मार्चमहिला
महिलायें व अभिभावकों ने बातचीत के दौरान बताया कि 9 साल की बच्ची से दुष्कर्म हुआ है, और मैनेजमेंट ने इस घिनौने कृत्य को छिपाने की कोशिश की है। बड़ी बेशर्मी से सनबीम की दूसरी शाखा में गोल्डेन जुबली मनाते रहे। परिजनों ने मांग की कि दौसी को जल्द और कठोर सजा दी जाए, वैसे मुख्य अपराधी पकड़ा गया है. उन्होंने जिला पुलिस व प्रशासन को चेताया कि स्कूल मैनेजमेंट की गलतियों को हल्के में न ले। उन्होंने सनबीम स्कूल समूह के चेयरमैन दीपक मधोक की गिरफ्तारी मांग भी की।

स्कूल प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी –
जुलूस में शामिल महिला अभिभावकों ने विभिन्न स्कूलों के मुख्य द्वार पर स्कूल प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए, स्कूल परिसर में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के खिलाफ विरोध मार्चविरोध मार्च रविवार को विश्वकर्मा नगर कालोनी से निकला जो सनबीम स्कूल समूह की विभिन्न शाखाओं समेत अन्य कई स्कूलों तक गया।

प्रदर्शन का मकसद –
महिलायें व अभिभावक ने दोषियों को तत्काल सजा देने की मांग की। उनका कहना है कि ये आवाज स्कूल में हैवानियत के खिलाफ है और ये आवाज दबने वाली नहीं है बल्कि दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई न हुई तो ये आवाज और बुलंद होगी और आंदोलन ओर तेज होगा। महिला अभिभावकों ने सनबीम स्कूल समूह के चेयरमैन दीपक मधोक के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की। अभिभावकों ने बताया कि स्कूलों के सामने प्रदर्शन का मकसद सभी स्कूल प्रबंधन को यह एहसास कराना है कि वो हमारे बच्चों के साथ लापरवाही नहीं कर सकते। हमने उनकी जिम्मेदारी पर ही बचचों को भेजा है।

स्कूल परिसर में नाबालिग छात्रा से दुष्कर्म के खिलाफ यह विरोध मार्च विश्वकर्मा नगर कॉलोनी के गेट से शुरू हुआ और ज्ञानदीप एकेडमी, प्रगति स्कूल चितईपुर होते सनबीम इंद्रानगर तक किया गया। रास्ते के बीच आने वाले सभी स्कूल के गेट पर महिलायें खड़ी होकर जमकर नारेबाजी की गई। महिला अभिभावकों के इस विरोध मार्च से आमजन। जगह-जगह लोगों की भारी भीड़ जुट गई। आलम ये रहा कि कई जगह यातायात भी प्रभावित हुआ।