राबिया की मौत फ़र्जी चालान घोटाला के खुलासा कर देने के कारण हुई … सीमा कुशवाह

राबिया की मौत फ़र्जी चालान घोटाला के खुलासा कर देने के कारण हुई ... सीमा कुशवाह

0
325
राबिया (Rabia)
Seema Kushwah Profile Pic

दिल्ली में एक और बार इंसानियत को शर्मशार होते देखा गया है. जी हाँ देश की राजधानी नई दिल्ली में अब मामला सामने आया है कि संगम विहार से जहाँ पर 21 वर्षीय राबिया (Rabia) सैफी के साथ सामूहिक रूप से बलात्कार किया गया और फिर उसकी हत्या कर दी गई. अब इसमें मशहूर वकील सीमा कुशवाह ने पुलिस और प्रशासन पर गंभीर सवाल उठाया है और एक फ़र्जी चालान घोटाला की भी बात की है.

राबिया (Rabia) के परिजनों से पूछताछ के बाद यह पता चला कि राबिया ने अभी हाल ही में पुलिस डिफेंस ऑफिसर की सर्विस ज्वाइन की हैं. राबिया को अपनी सर्विस को ज्वाइन किये महज 4 महीने ही हुए थे कि उनके साथ यह हादसा हो गया.

राबिया के परिजनों का कहना है कि राबिया रोजाना की तरह ही 26 अगस्त की सुबह अपने ऑफिस गई लेकिन उस रात 8:00 पर राबिया ने घर पर कॉल किया था परन्तु किसी ने कॉल नहीं उठाया उसके बाद परिजनों ने राबिया को वापस कॉल किया लेकिन इस बार राबिया का मोबाइल बंद आ रहा था . जब राबिया के ऑफिस जाकर देखा तो वहां से पता चला कि राबिया हमेशा कि तरह ऑफिस से अपने समय पर घर के लिए निकल गई थी.

जब पुलिस ने राबिया का पता लगाने कि कोशिश कि तब फरीदाबाद में पुलिस को राबिया का शव मिला, इसके तुरंत बाद पुलिस ने उस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया, पोस्टमार्टम होने के बाद उस शव को परिवार वालो को सौप दिया गया.

सीमा कुशवाह समृद्धि की पोस्ट

अब यह केस सीमा कुशवाह समृद्धि लड़ रही है जिन्होंने निर्भया जैसे केस लड़े है और गुनहगारों को सजा दिलाने में सफल रही हैं. सीमा कुशवाह ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट करते हुए लिखा- “बेटी राबिया (Rabia) सैफी का दिल्ली में मर्डर कर दिया गया; दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी गयी”।
राबिया के परिवार के सदस्यों से जब मैंने बात की तब पता चला कि पुलिस सच को छुपाने की पूरी कोशिश कर रही है। राबिया के साथ बलात्कार भी किया गया था और पुलिस अपराधी को बचाने की भी कोशिश कर रही है। राबिया बेटी को इनकी काम के प्रति ईमानदारी की सजा मिली।
राबिया की मौत के पीछे दिल्ली में कोविड के टाइम फ़र्जी चालान घोटाला के खुलासा कर देने के कारण हुई।
लेकिन पुलिस ने उस व्यक्ति का नाम भी एफआईआर में भी दर्ज नहीं किया जो राबिया को उसकी मर्डर वाली शाम को साथ लेकर गया था।

दिल्ली पुलिस को राबिया बेटी के सभी अपराधियों जल्द-से-जल्द गिरफ्तार कर न्याय दिलाना चाहिए।

पोस्टमार्डम कि रिपोर्ट के मुताबिक महिला कांस्टेबल राबिया सैफी की बलात्कार के बाद हत्या कर दी गई थी। हत्यारों ने उसे 50 बार चाकू मारा था।