क्या मोदी-ममता के राजनीतिक और निजी रिश्ते अलग-अलग है?

0
1277
ममता बनर्जी Mamata Banerjee
Modi & Mamta (internet Pic)

हाल ही में अक्षय कुमार (Akshay kumar) को दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री मोदी ने विपक्षी पार्टियों के आपसी संबंध के बारे में बताते हुए कहा था कि खुद ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) उनके लिए कुर्ता पसंद करके भेजती है और मिठाई भी भेजती है।

इसके जवाब में ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कहा कि वो कई अवसरों पर लोगो को मिठाई और उपहार भेजती है लेकिन वोट एक भी नही देगी। ममता बैनर्जी ने हुगली जिले में एक चुनावी सभा मे प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) का नाम लिए बिना कहा की “मैं लोगो को रसगुल्ला भेजती हू मैं पूजा के दौरान उन्हें उपहार भी भेजती हूँ और चाय पिलाती हूँ लेकिन उन्हें वोट नही दूंगी।

ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पीएम मोदी (PM Modi) की कट्टर आलोचक है और अपनी इस बात से उन्होंने साफ जाहिर कर दिया है कि वो बंगाल में मोदी को इतनी आसानी से पकड़ नही बनाने देगी।

पिछले कुछ महीनों से भारतीय जनता पार्टी बंगाल में अपने पाँव ज़माने की पूरी कोशिश में लगी हुई है। अपने तेज तरार राजनीतिक छवि के छलते ममता हमेशा सुर्ख़ियों में बनी रहती है तथा विपक्ष का सबसे मजबूत चेहरा मानी जाती है।
ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) और नरेंद्र मोदी की राजनीतिक तकरार चलती रहती है परन्तु दोनों की बातें मानी जाये तो लगता है कि उनके आपसी रिश्ते बहुत ही मधुर है।

गौरतलब है कि बीजेपी के साथ गठबंधन में रहते हुए अटल बिहारी सरकार में ममता बनर्जी मंत्री रहा चुकी है और उसके बाद ममता बनर्जी कांग्रेस के साथ भी सरकार में रह चुकी है परन्तु अभी उनकी पार्टी चुनावों में अकेले ही डैम ख़म दिखा रही है।

कुछ समय पहले केंद्र सरकार और ममता बनर्जी की काफी खींचतान रही है जिससे उनके राजनीतिक रिश्तों की खटास सामने आ गई परन्तु अक्षय कुमार के साथ प्रधानमंत्री के इंटरव्यू में उनके निजी रिश्तों के बारे में प्रधानमंत्री ने खुलकर कहा तथा ममता बनर्जी ने उनकी बात का समर्थन भी किया और राजनीतिक रूप से असहमति भी जताई।