जीवन में सुकून और बदलाव के लिए इन महिला (Women) खिलाडियों ने छोड़े खेल (Sprorts)…

जीवन में सुकून और बदलाव के लिए इन महिला (Women) खिलाडियों ने छोड़े खेल (Sprorts)...

0
717
women sports
जीवन में सुकून और बदलाव के लिए इन महिला (Women) खिलाडियों ने छोड़े खेल (Sprorts)...

एश्ले बार्टी,- 18 की उम्र में डिप्रेशन और होम सिकनेस झेल चुकी हैं
दुनिया की नंबर वन टेनिस प्लेयर, जिसके खेल (Sports) की दीवानी पूरी दुनिया है। यह ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी अपने करियर के सबसे सुनहरे दौर में थीं। लेकिन 23 मार्च को इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट लिखकर टेनिस छोड़ने की घोषणा से उनके फैंस हैरान रह गए। एश्ले ने उस करियर को अलविदा कह दिया, जो उनकी बचपन की मोहब्बत थी। जो उनका पैशन था।


एश्ले बार्टी

25 साल की एश्ले जब चार साल की थीं, तभी से टेनिस खेलने लगी थीं। और लगातार अच्छा खेलने और जीत दर्ज करने के प्रेशर को महसूस करने लगीं। अपने मेंटल हेल्थ पर बात करते हुए एक बार उन्होंने कहा था कि 15 साल की उम्र में विंबलडन जूनियर ताज जीतने के बाद आगे कुछ बड़ा करने का प्रेशर बहुत ज्यादा था। वो उस प्रेशर से कैसे निपटें इसके लिए लगातार संघर्ष कर रही हैं।

एश्ले बार्टी ने चार साल में 3 ग्रैंड स्लैम जीते थे। इसी साल की शुरुआत में उन्होंने अपना तीसरा ग्रैंड स्लैम जीता था।
8 साल पहले टेनिस छोड़ थाम लिया था क्रिकेट बल्ला.

एश्ले पहले भी टेनिस को छोड़ चुकी थीं। साल 2014 के सितंबर में उन्होंने टेनिस रैकेट छोड़ क्रिकेट का बल्ला उठा लिया। ब्रेक के दौरान वो सेमी प्रोफेशनल क्रिकेट खेलने लगीं। उस वक्त भी उन्होंने ब्रेक का कोई कारण नहीं बताया। ब्रेक के दौरान वो फिशिंग, घर बनाने जैसे शौक को पूरा कर रही थीं। बाद में वो टेनिस की दुनिया में फिर लौटी और कहा-‘मुझे मानसिक तौर पर अधिक मजबूत होने के लिए कुछ समय चाहिए था। यह (टेनिस) (Sports) मेरे लिए थोड़ा कठिन हो गया था। मैं इसका उतना आनंद नहीं ले रही थी, जितना मुझे पसंद था। मैं कम उम्र में ही ज्यादा टेनिस खेल चुकी थी। मैं टीनएज लड़की के तौर पर अपने जीवन का आनंद और कुछ सामान्य अनुभव लेना चाहती थी।’

एनिका सोरेनस्टाम: लाइफ में नयापन लाने के लिए करियर छोड़ा
स्वीडिश खिलाड़ी एनिका की गिनती अब तक की सर्वश्रेष्ठ महिला (Women) गोल्फरों में होती थीं। साल 2008 में इन्होंने रिटायरमेंट का ऐलान किया। एनिका जब ऐसा कर रही थीं, उस वक्त वो अपनी करियर के टॉप पर थीं। 90 इंटरनेशनल टूर्नामेंट खेल (Sports) चुकी थीं। रिटायरमेंट के समय उनकी उम्र 37 साल थी। तब भी उन्होंने अपने आखिरी साल में तीन टूर्नामेंट जीते थे। कमाई के मामले में चौथे नंबर पर और सीजन की दूसरी नंबर की खिलाड़ी रहीं।


एनिका सोरेनस्टाम

एनिका ने भी रिटायरमेंट के लिए एश्ले की तरह तर्क दिया। उनका कहना था कि वो अपने जीवन में और भी बहुत कुछ करना चाहती हैं।

जस्टिन हेनिन: अब मेरे अंदर खेलने और जीतने की इच्छा नहीं
बेल्जियम टेनिस खिलाड़ी (Women) जस्टिन हेनिन अपने करियर में सात सिंगल ग्रैंड स्लैम जीता था। 117 हफ्ते तक वो लगातार दुनिया की नंबर वन खिलाड़ी रहीं। हेनिन फ्रेंच ओपन में 3 बार और यूएस ओपन में डिफेंडिंग चैंपियन थीं। साल 2008 में उन्होंने अचानक टेनिस छोड़ दिया। उस वक्त हेनिन केवल 25 साल की थीं। करियर को छोड़ते वक्त उन्होंने कहा था कि उनके अंदर अब खेलने और जीतने की इच्छा नहीं रही। हालांकि 2009 में वो फिर से टेनिस कोर्ट पर लौटीं। उन्होंने 2010 में दो टाइटल भी जीता लेकिन 2011 में एल्बो इंजरी की वजह से हमेशा के लिए रिटायरमेंट ले लिया।

जस्टिन हेनिन

जस्टिन राइट हैंडेड टेनिस प्लेयर थीं। साल 2003, 2006 और 2007 में साल के अंत में नंबर 1 रहीं। इन्होंने 41 डब्लूटीए सिंगल खिताब जीता है।

सिमोन बाइल्स: मेंटल हेल्थ पर फोकस के लिए बीच में छोड़ा ओलिंपिक
सिमोन बाइल्स अमेरिकी जिमनास्ट हैं। टाइम मैगजीन ने इन्हें 2021 का सर्वश्रेष्ठ एथलीट चुना। पिछले साल टोक्यो में हुए ओलिंपिक 2020 से अचानक उन्होंने चार कॉम्पिटिशन से नाम वापस ले लिया। ओलिंपिक और वर्ल्ड चैम्पियनशिप मिलकर 32 मेडल जीतने वाली सिमोन जिमनास्ट की दुनिया का बड़ा नाम बन चुकी हैं। उन्होंने दुनिया के सामने खुलकर अपनी मेंटल हेल्थ पर बात की। वो अपने मेंटल हेल्थ पर फोकस करना चाहती थीं इसलिए बिना दुनिया की परवाह किए बीच इवेंट से नाम वापस ले लिया। अपने खेल (Sports) से उन्हें वो खुशी नहीं मिल रही थी, जो वो पहले महसूस करती थीं।


सिमोन बाइल्स

सिमोन ने सिर्फ 16 साल की उम्र में दो विश्व चैंपियनशिप स्वर्ण पदक जीते, जिसमें ऑल-अराउंड खिताब भी शामिल है।