Commonwealth Games 2022: इस राज्य की बेटियों ने सबसे ज्यादा मेडल जीते, महिलाओं की कम जनसंख्या के लिए बदनाम…

0
81
Commonwealth Games 2022
Commonwealth Games 2022

बर्मिंघम कॉमवेल्‍थ गेम्‍स 2022 का 8 अगस्त को समापन हो गया। CWG 2022 का समापन समारोह बर्मिंघम शहर के एलेक्जेंडर स्टेडियम में आयोजित किया गया, समाहरोह काफी धूमधाम से किया गया।इस समाहरोह में सभी देशों ने अपनी संस्कृति को मंच पर प्रदर्शित करने की कोशिश की। ब्रिटेन के प्रिंस एडवर्ड ने 22वें गेम्स का समापन की घोषणा की। बर्मिंघम में हुए Commonwealth Games 2022 11 दिनों तक चले, जिसमें 72 देशों के 5 हजार से ज्यादा एथलीट ने हिस्सा लिया। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि 2022 की इस सीरीज में भारत का चौथा स्थान रहा.

Commonwealth Games 2022
Commonwealth Games 2022

भारतीय सभी खिलाडियों ने अपना बेहतर परफॉर्मेंस दिया, कुछ ने सुनहरे अक्षरों से अपनी जीत दर्ज की और देश के नाम कुल 61 मैडल किये, इनमे से 22 गोल्ड , 16 सिलव्सर और 23 ब्रोंज शामिल है. इन सभी खिलाडियों को देश और TheHalfWorld.Com की तरफ से बहुत – बहुत बधाई. आज हम बात करने वाले है Commonwealth Games 2022 में जितने वाली उन सभी महिला खिलाडियों की.

मीराबाई चानू- गोल्ड मेडल (वेटलिफ्टिंग 49 KG) Mirabai Chanu – Gold Medal (Weightlifting 49 KG)

Commonwealth Games 2022: मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) ने वेटलिफ्टिंग इवेंट के 49 किलो भारवर्ग में भारत के लिए गोल्ड मेडल जीत लिया है। Commonwealth Games 2022: कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत को पहला स्वर्ण पदक हासिल हुआ। मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) ने वूमेन्स वेटलिफ्टिंग के 49 किलो भारवर्ग में यह मेडल जीता है।

वूमेन्स टीम- गोल्ड मेडल (लॉन बॉल्स) Women’s Team – Gold Medal (Lawn Balls)

भारत की महिला लॉन बॉल्स टीम ने मंगलवार को इस स्पर्धा का ऐतिहासिक गोल्ड मेडल जीता था। भारत की लवली चौबे (लीड), पिंकी (सेकंड), नयनमोनी सैकिया (थर्ड) और रूपा रानी टिर्की (स्लिप) की चौकड़ी ने दक्षिण अफ्रीका को फाइनल में 17-10 से हराया था। भारत इस वक्त कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 की पदक तालिका में पांचवें स्थान पर है।

भाविना पटेल- गोल्ड मेडल (पैरा टेबल टेनिस) Bhavina Patel – Gold Medal (Para Table Tennis)

बर्मिंघम में जारी कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 (Commonwealth Games) में भारत की भाविना पटेल (Bhavina Patel) ने पैरा टेबल टेनिस महिला वर्ग 3-5 इवेंट में गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रचा है. फाइनल मुकाबले में भाविना (Bhavina Patel) ने नाइजिरीया की क्रिस्टियाना इकपोयी को हराकर अपना पहला कॉमनवेल्थ मेडल जीता. इससे पहले भाविना ने टोक्यो ओलंपिक 2020 में सिल्वर मेडल जीतकर इतिहास रचा था. हालांकि, पैरालंपिक में उन्हें फाइनल में चीन की झाउ यिंग से हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन, अब कॉमनवेल्थ गेम्स के फाइनल में उन्होंने गोल्ड अपने नाम कर लिया.

साक्षी मलिक- गोल्ड मेडल (कुश्ती 62 KG) Sakshi Malik – Gold Medal (Wrestling 62 KG)

भारत के लिए रियो ओलंपिक खेलों में कांस्य पदक जीतने वाली महिला पहलवान साक्षी मलिक (Sakshi Malik) ने कनाडा की एना गोंजालेज को 62 किग्रा भारवर्ग की फ्री स्टाइल कुश्ती में धमाकेदार अंदाज में मात देकर गोल्ड मेडल पर कब्जा कर लिया। भारत का यह मौजूदा राष्ट्रमंडल खेलों में कुश्ती में भारत का दूसरा गोल्ड है। उनसे पहले बजरंग पूनिया ने भारत को कुश्ती में पहला गोल्ड दिलाया था। वहीं अंशू मलिक गोल्ड जीतने से चूक गईं थी।

विनेश फोगाट- गोल्ड मेडल ( कुश्ती 53 KG) Vinesh Phogat- Gold Medal ( Wrestling 53 KG)

Commonwealth Games 2022: बर्मिंघम में कॉमनवेल्थ गेम्स में विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) ने भारत को 11वां गोल्ड मेडल दिया दिया है. विनेश फोगाट ने फाइनल मैच में श्रीलंका की पहलवान को हराया. कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games 2022) के 22वें एडिशन में भारत का ये 33वां मेडल है.

नीतू घंघस- गोल्ड मेडल (बॉक्सिंग) Neetu Ghanghas – Gold Medal (Boxing)

कॉमनवेल्थ गेम्स का 10वां दिन भी भारत के लिए बेहतरीन साबित हो रहा है. महिला हॉकी टीम के ब्रॉन्ज मेडल जीतने के साथ ही बॉक्सिंग में भी नीतू घंघस (Neetu Ghanghas) ने गोल्ड मेडल जीत लिया है. नीतू (Neetu Ghanghas) ने 48kg भार वर्ग में इंग्लैंड की बॉक्सर को मात दी है. पूरे मैच में नीतू (Neetu Ghanghas) का दबदबा रहा और तीनों राउंड में उन्हें प्वाइंट्स भी ज्यादा मिले.

नीतू (Neetu Ghanghas) को पांचों जजों ने जमकर प्वाइंट्स दिए. उन्हें पहले राउंड में पांच में से चार जजों ने 10-10 अंक दिए और अंत में 5-0 से उन्हें विनर घोषित किया. जिस किसी ने भी फाइनल में नीतू (Neetu Ghanghas) की परफॉर्मेंस देखी वो उनका फैन हो गया है. उन्होंने पूरे मैच में अपने विरोधी बॉक्सर को एक बार भी संभलने का मौका नहीं दिया और एक के बाद एक लगातार उसपर पंचों की बारिश करती रहीं.

निकहत जरीन- गोल्ड मेडल (बॉक्सिंग) Nikhat Zareen – Gold Medal (Boxing)

विश्व चैंपियन भारतीय मुक्केबाज निकहत जरीन (Nikhat Zareen) , अमित पंघल और नीतू घंघस ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 में भारतीय मुक्केबाजी का परचम लहराते हुए अपने-अपने फाइनल जीतकर स्वर्ण हासिल किये। कुछ हफ्ते पहले विश्व चैंपियन बनीं निकहत जरीन (Nikhat Zareen) ने महिला 50 किग्रा मैच में बेलफास्ट की कार्ली मेकनॉल को मात दी। निकहत जरीन (Nikhat Zareen) ने मैच की शुरुआत से ही कार्ली पर मुक्कों की बरसात शुरू कर दी और कमेंटेटर के शब्दों में बेलफास्ट की मुक्केबाज को ‘महत्वपूर्ण सबक’ सिखाया। तीन राउंड के बाउट में कभी भी नहीं लगा कि कार्ली नियंत्रण में हैं, और अंततः निकहत जरीन (Nikhat Zareen) ने 5-0 के एकमत फैसले से स्वर्ण जीता।

टेबल टेनिस मिक्सड टीम – गोल्ड मेडल (टेबल टेनिस) Table Tennis Mixed Team – Gold Medal (Table Tennis)

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022(Common wealth Games) में जैसे भारत के लिए गोल्डन की बारिश हो रही है। टेबल टेनिस के मिकस्ड डबल्स के फाइनल मुकाबले में भारत की जोड़ी शरथ कमल और श्रीजा अकुला(Achanta Sharath Kamal and Sreeja Akula ) ने इतिहास रचते हुए गोल्ड मेडल जीत लिया है। फाइनल मुकाबले में उन्होंने मलेशिया के जेवेन चोंग और केरेन लिन(Javen Choong and Karen Lyne o) को 11-4, 9-11, 11-5, 11-6 से हराकर आसान जीत के जरिये गोल्ड मेडल हासिल किया। राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने खिलाड़ी जोड़ी को बधाई दी है। राष्ट्रपति ने tweet में लिखा-#CommonwealthGames में मिश्रित युगल टेबल टेनिस में स्वर्ण पदक जीतने के लिए शरथ कमल और श्रीजा अकुला को हार्दिक बधाई। उन्होंने भारत के लिए टेबल टेनिस इतिहास की पटकथा में अनुभव और युवाओं का मिश्रण किया। उन्होंने सुनिश्चित किया कि हमारा तिरंगा एक बार फिर बर्मिंघम में ऊंची उड़ान भरेगा।

पीवी सिंधु – गोल्ड मेडल (बैडमिंटन) PV Sindhu – Gold Medal (Badminton)

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत के नाम एक और स्वर्ण पदक पक्का हो गया है. इस बार गोल्ड मेडल महिला बैडमिंटन स्टार पीवी सिंधु (PV Sindhu) की बदौलत देश को हासिल हुआ. पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने सीधे गेम में कनाडा की शटलर को गोल्ड मेडल मैच में शिकस्त दी और बर्मिंघम में तिरंगा लहरा दिया. ये भारत का बर्मिंघम कॉमनवेल्थ गेम्स में जीता 19वां गोल्ड मेडल है. वहीं, ये पहली बार है जब पीवी सिंधु महिला बैडमिंटन के सिगल्स इवेंट में कॉमनवेल्थ गेम्स चैंपियन बनी हैं.

भारत के पदक विजेता

  • 22 स्वर्णः मीराबाई चानू, जेरेमी लालरिनुंगा, अंचिता शेउली, महिला लॉन बॉल टीम, टीटी पुरुष टीम, सुधीर, बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, दीपक पूनिया, रवि दहिया, विनेश, नवीन, भाविना, नीतू, अमित पंघाल, एल्डहॉस पॉल, निकहत जरीन, शरत-श्रीजा, पीवी सिंधु, लक्ष्य सेन, सात्विक-चिराग, शरत।
  • 16 रजतः संकेत सरगर, बिंदियारानी देवी, सुशीला देवी, विकास ठाकुर, भारतीय बैडमिंटन टीम, तूलिका मान, मुरली श्रीशंकर, अंशु मलिक, प्रियंका, अविनाश साबले, पुरुष लॉन बॉल टीम, अब्दुल्ला अबोबैकर, शरथ-साथियान, महिला क्रिकेट टीम, सागर, पुरुष हॉकी टीम।
  • 23 कांस्यः गुरुराजा, विजय कुमार यादव, हरजिंदर कौर, लवप्रीत सिंह, सौरव घोषाल, गुरदीप सिंह, तेजस्विन शंकर, दिव्या काकरन, मोहित ग्रेवाल, जैस्मिन, पूजा गहलोत, पूजा सिहाग, मोहम्मद हुसामुद्दीन, दीपक नेहरा, रोहित टोकस, सोनलबेन, महिला हॉकी टीम, संदीप कुमार, अन्नू रानी, सौरव-दीपिका, किदांबी श्रीकांत, त्रिषा-गायत्री, साथियान।

कुल 72 देशों और टेरिटरी से लगभग 6000 एथलीट इस स्पोर्ट्स इवेंट में हिस्सा लिया. भारत के 215 खिलाड़ी इस बार कॉमनवेल्थ गेम्स के 15 खेलों में हिस्सा लिया। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा खिलाड़ी हरियाणा से थे जिनकी संख्या 39 है, इनमें से 19 महिला खिलाड़ी हैं। इसके बाद दूसरे नंबर पर 26 खिलाड़ियों के साथ पंजाब है जबकि तमिलनाडु से 17, दिल्ली और महाराष्ट्र से 14-14 एथलीट बर्मिंघम पहुंचे थे।

THE HALF WORLD – YOU TUBE

पूरा आर्टिकल पढ़ने के लिए बहुत बहुत सुक्रिया हम आशा करते है कि आज के आर्टिकल ऑनर किलिंग (honor killing) से जरूर कुछ सीखने को मिला होगा, अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे शेयर करना ना भूले और ऐसे ही अपना प्यार और सपोर्ट बनाये रखे THEHALFWORLD वेबसाइट के साथ चलिए मिलते है नेक्स्ट आर्टिकल में तब तक के लिए अलविदा, धन्यवाद !