चीन-पाकिस्तान की दोस्ती में पाकिस्तानी महिलाओं की बलि ?

0
660
चीन-पाकिस्तान China-Pakistan
प्रतीकात्मक फोटो

चीन-पाकिस्तान (China-Pakistan) की दोस्ती का खामियाजा पाकिस्तानी महिलाओं को उठाना पड़ रहा है, क्योंकि कुछ दलालों के संपर्क में आकर वहां की महिलाएं चीनी से शादी कर रही है। लड़कियों के घर वालों को मोटा लालच दिया जाता है। 

चीन की बढ़ती जनसँख्या के साथ साथ वहाँ का लिंगानुपात भी बिगड़ता जा रहा है इसलिए भी चीनी पुरुष पाकिस्तानी लड़कियों से शादी कर रहे है। इन शदियों के कारण चीन और पाकिस्तान (China-Pakistan) में गैरकानूनी मैरिज सेंंटरों तथा दलालों की संख्या में इजाफा हुआ है। कुछ रिपोर्ट्स के अनुसार इन शदियों के कई वीडियो फुटेज भी मौजूद है।

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, इसमें स्थानीय प्रशासन के द्वारा पूर्वी चीन में स्थित हेज, शेन्डॉन्ग के कुछ मैरिज सेंटर को बंद करवाने का जिक्र था। पाकिस्तानी महिलाओं और चीनी पुरुषों की शादी के कई वीडियो पहले से ही मौजूद है। कुछ की शूटिंग शेन्डॉन्ग में होने का दावा, जो चीन का चर्चित प्रदेश है।

पाकिस्तान के एक न्यूज चैनल ने भी इसका खुलासा किया है। इसमें लाहौर के पूर्वी शहर में स्थित एक गैरकानूनी मैरिज सेंटर में कुछ चीनी पुरुष छह स्थानीय महिलाओं के साथ अलग-अलग कमरों में नजर आए।

गौरतलब है की चीन-पाकिस्तान (China-Pakistan) सिटीजनशिप कॉरिडोर प्रोजेक्ट के अंतर्गत दोनों देश 60 बिलियन डॉलर का निवेश करने वाले हैं। जिसके कारण कुछ सालों में कई चीनी लोग पाकिस्तान में काम करने के लिए गए हैं।   

स्थानीय लोगों के अनुसार ऐसे दलाल पाकिस्तानी महिलाओं को तथा उनके परिवारों को चीनी दामाद का प्रलोभन देते हैं, वही चीनी पुरुषों को पाकिस्तानी महिलाओं का परतलोभन देते है।

  रिपोर्ट के अनुसार चीन और पाकिस्तान ने मिलकर गैरकानूनी मैरिज ब्रोकर्स को पकड़ने की कोशिश कर रहे है। जिससे पाकिस्तानी महिलाओं की तस्करी भी रोकी जा सके। हालांकि चीनी दूतावास की ओर से मानव तस्करी और मानव अंग के व्यापार के आरोपों को नकारा गया है।

    चीनी दूतावास ने कहा, ”हम चीन और पाकिस्तान के लोगों को आगाह करते हैं कि ठगी का शिकार न हो। हम उम्मीद करते हैं कि जनता इस तरह के भ्रामक संदेशों पर भरोसा नहीं करेगी। चीन और पाकिस्तान दोस्ती को बनाए रखते हुए मिलकर काम करेंगे।”

गौरतलब है की चीन पाकिस्तान में व्यापार के तहत घुसने की कोशिश कर रहा है तथा इसका फायदा वहां के मानव तस्करी दलाल उठा रहे है। कुछ पैसों के लालच में वहाँ की महिलाओं को नर्क में धकेला जा रहा है।