Seema Patra: BJP की महिला नेता जिसने क्रूरता की हद पार की, आदिवासी लड़की के रॉड से दांत तोड़े, जीभ से टॉयलेट भी साफ़ करवाया…

0
67
Seema Patra
आदिवासी सुनीता ने कहा - गर्म तवे से जलाती और रॉड से दांत तोड़े, Seema Patra गिरफ्तार...

Seema Patra News: झारखंड में रांची पुलिस ने नौकरानी को प्रताड़ित करने के आरोप में निलंबित बीजेपी नेता और पूर्व आईएएस अधिकारी की पत्नी सीमा पात्रा (Seema Patra) को गिरफ्तार किया है. सीमा के खिलाफ अरगोड़ा थाने में मामला दर्ज हुआ था. इससे पहले रांची पुलिस ने बताया था कि पुलिस टीम ने 22 अगस्त को एक पूर्व आईएएस अधिकारी के आवास पर घरेलू सहायिका के रूप में काम करने वाली 29 वर्षीय महिला को उसके नियोक्ता द्वारा कथित तौर पर शारीरिक रूप से प्रताड़ित करने के बाद बचाया. पीड़िता का फिलहाल इलाज चल रहा है.

Seema Patra: इससे पहले राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने घरेलू सहायिका का कथित रूप से उत्पीड़न करने को लेकर पूर्व आईएएस अधिकारी की पत्नी को गिरफ्तार करने की मांग की थी. आयोग ने इस मामले की निश्चित समय सीमा में निष्पक्ष तरीके से जांच एवं पीड़िता का बेहतर इलाज कराने की भी मांग की .

बेटे को भेजा पागलखाने – son sent to madhouse

ABP न्यूज़ के अनुसार एनसीडल्यू ने कहा था कि मीडिया की खबरों के अनुसार पूर्व आईएएस अधिकारी महेश्वर पात्रा की पत्नी सीमा पात्रा (Seema Patra) ने अपनी घरेलू सहायिका पर हमला किया और उसका उत्पीड़न किया. खबरों के अनुसार सीमा पात्रा (Seema Patra) उसे कई दिनों तक भूखा-प्यासा रखती थी, उसने कथित रूप से लोहे की छड़ से मारकर उसके दांत तोड़ दिये.

आरोप है कि सीमा पात्रा (Seema Patra) घर में काम करने वाली मेड सुनीता पर थर्ड डिग्री टॉर्चर करने लगीं तो उनके युवा पुत्र आयुष्मान पात्रा ने विरोध किया था. इसपर सीमा पात्रा ने अपने पुत्र को ही मनोरोगी घोषित कर रांची की चर्चित मानसिक आरोग्यशाला रिनपास में भर्ती करा दिया था. हद तो यह हो गयी कि उन्होंने पुत्र के हाथ में बेड़ियां लगाकर उसे जबरन यहां दाखिल कराया था. सोमवार को जब सुनीता के टॉर्चर की खबरें छपीं तो उन्होंने अपने पुत्र को आनन-फानन यहां से रिलीज करवा लिया है.

राज्यपाल भी एक्शन में – Governor also in action

इस मामले को लेकर जैसे ही हंगामा मचा बीजेपी ने सीमा को संस्पेंड कर दिया। इसके बाद कार्रवाई नहीं करने पर राज्यपाल ने भी पुलिस से रिपोर्ट मांग ली थी। राजभवन की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि रमेश बैस ने सुनीता को प्रताड़ित किए जाने की खबर का संज्ञान लिया है। बयान के मुताबिक- “राज्यपाल ने अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए राज्य के पुलिस महानिदेशक से पूछा है कि पुलिस द्वारा अब तक दोषी व्यक्तियों के खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की गई है। राज्यपाल ने पुलिस की ढिलाई पर भी गंभीर चिंता व्यक्त की है।”

सीमा पात्रा ने सफाई में कहा – Seema Patra said in clarification

सीमा (Seema Patra) ने दावा किया है कि उन्होंने सुनीता के साथ ऐसा कुछ नहीं किया और उनका बेटा आयुष्मान मानसिक तौर पर बीमार है. उन्होंने कहा कि उनके बेटे ने झूठे आरोप लगाए हैं. फिलहाल इस पूरे मामले को लेकर सीमा पात्रा के खिलाफ अरगोड़ा थाने में केस दर्ज किया जा चुका है, जिसमें एससी/एसटी एक्ट 1989 की धाराओं के अलावा IPC की धारा 323 (जानबूझ कर स्वेच्छा से चोट पहुंचाना) भी शामिल है.

DSP हटिया को इस मामले की जांच करने के लिए निर्देश दिया गया है. वहीं, कांग्रेस की विधायक दीपिका ने इस मामले में सीमा पात्रा (Seema Patra) के खिलाफ कड़ी करवाई और सजा की मांग की है.

सुनीता ने बताई जुल्म की कहानी – Sunita told the story of atrocities

ABP न्यूज़ के अनुसार मंगलवार को पुलिस ने सीमा पात्रा की कैद से आजाद कराई गई सुनीता का कोर्ट में धारा 164 के तहत बयान दर्ज कराया है. उसने अपने बयान में खुद पर हुए जुल्म की पूरी कहानी कोर्ट के समक्ष बताई है. सुनीता के अनुसार, उसे गरम तवे से जगह-जगह दागा गया, पेशाब चटाया गया, लोहे की रॉड से उसके आगे के तीन-चार दांत तोड़ दिए गए. उसका खाना-पानी तक बंद कर दिया गया था. झारखंड सरकार के कार्मिक विभाग के एक अफसर की सूचना पर रांची पुलिस ने उसे 22 अगस्त को सीमा पात्रा के रांची के अशोकनगर स्थित आवास से मुक्त कराया था.

कौन है सीमा पात्रा? – Who is Seema Patra?

सीमा पात्रा (Seema Patra) भारतीय जनता पार्टी की नेता जो अभी हाल ही में सस्पेंड कर दिया गया है कुछ घरेलू विवाद के कारण, नौकरानी द्वारा आरोप लगाए जाने के कारण छात्रा को पार्टी से दखल कर दिया गया है, नौकरानी का आरोप है कि पिछले 8 साल से वह हमें बंधक बनाकर घर में रखी है और हम से दुर्व्यवहार जैसे व्यवहार करती हैं,

कौन है सुनीता? – Who is Sunita?

आदिवासी समुदाय से आने वाली सुनीता गुमला के एक गांव की रहने वाली है. करीब 10 साल पहले वो रिटायर्ड आईएएस महेश्वर पात्रा और सीमा पात्रा (Seema Patra) के घर मेड के तौर पर काम करने के लिए लाई गई थी. बाद में वो दिल्ली में रहने वाली उनकी पुत्री वत्सला पात्रा के साथ भेज दी गई. दिल्ली से उनके तबादले के बाद सुनीता वापस रांची सीमा पात्रा (Seema Patra) के घर आई. यहां काम करते हुए उसे हमेशा प्रताड़ित किया जाता रहा.