ऋषिकेश की चिला नहर से मिला Ankita Bhandari का शव, पूर्व राज्यमंत्री का बेटा सहित तीन आरोपी गिफ्तार….

अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) बीते पांच दिनों से लापता थी. लेकिन शव मिलने के बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला की उसकी हत्या हुई है. जिसके बाद पुलिस एक्शन में आई और 24 घंटे के अंदर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया.

0
58
Ankita Bhandari
ऋषिकेश की चिला नहर से मिला Ankita Bhandari का शव, पूर्व राज्यमंत्री का बेटा सहित तीन आरोपी गिफ्तार....

Ankita Bhandari Murder: उत्तराखंड (Uttarakhand) स्थित ऋषिकेश (Rishikesh) में पांच दिनों से लापता चल रही अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) का शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया. जिसके बाद पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए जांच के बाद 24 घंटे के अंदर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के अनुसार रिसोर्ट मालिक पुलकित आर्य (Pulkit Arya) इस मामले में मुख्य आरोपी है. वो बीजेपी (BJP) नेता विनोद आर्य का बेटा है. वहीं मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी (Pushkar Singh Dhami) ने इस मामले में सख्त एक्शन लेते हुए रिजार्ट तोड़ने का निर्देश दे दिया.

शासन के आदेशों के अनुसार ही ऋषिकेश स्थित मुख्य आरोपी पुलकित आर्य के वनतारा रिजार्ट को तोड़ा गया है. इसकी जानकारी सीएम के विशेष प्रधान सचिव अभिनव कुमार ने दी है. उन्होंने कहा, “अंकिता भंडारी की कथित तौर पर हत्या करने वाले पुलकित आर्य के स्वामित्व वाले ऋषिकेश के वनतारा रिजार्ट को उत्तराखंड सीएम पुष्कर सिंह धामी के आदेश पर तोड़ा जा रहा है.”

पुलिस जांच में सामने आई ये बात This thing came out in the police investigation

दरअसल, अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) बीते पांच दिनों से लापता थी. लेकिन शव मिलने के बाद जब पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला की उसकी हत्या हुई है. जिसके बाद पुलिस एक्शन में आई और 24 घंटे के अंदर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. वहीं इस केस में मुख्य आरोपी पुलकित आर्य है, जो बीजेपी नेता विनोद आर्य का बेटा है. पुलिस की जांच में खुलासा हुआ है कि उन्होंने अंकिता भंडारी को सुनसान जगह पर ले जाकर शराब पिलाई और उसके बाद शराब के नशे में हत्या कर उसका शव नहर में फेंक दिया.

बता दें कि पहले यह मामला राजस्व पुलिस के पास था. लेकिन बाद में मामले की गंभीरता को देखते हुए लक्ष्मण झूला पुलिस को ट्रांसफर किया गया. जिसके बाद मामले में लक्ष्मणझूला पुलिस ने कार्रवाई की. सूत्रों की मानें तो गिरफ्तार तीनों आरोपियों ने कई राज उगले हैं. पुलिस इस मामले की जल्द खुलासा कर सकती है.

कौन है अंकिता भंडारी, और क्या है पूरा मामला ? Who is Ankita Bhandari, and what is the whole matter?

मूल रूप से राज्य के पौड़ी गढ़वाल जिले के डोभ श्रीकोट की रहने वाली अंकिता भंडारी (Ankita Bhandari) बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखती थी। परिवार की आर्थिकी सुधारने के लिए अंकिता ने खुद जिम्मेदारी उठाई थी। जिसके लिए उसने वनंत्रा रिजॉर्ट में काम करने का फैसला लिया। मगर उसे क्या पता था कि यह रिजार्ट उसकी जान ही ले लेगा।

इस नृशंस हत्याकांड के बाद से जहां अंकिता के गांव में आक्रोश है वहीं अंकिता (Ankita Bhandari) की मां सोना देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। पिता वीरेंद्र भंडारी बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए यमकेश्वर के चक्कर काट रहे हैं। बता दें कि अंकिता का परिवार कोरोना काल से अपने पैतृक गांव में ही रह रहा था। कोरोना काल में काम धंधा छिन जाने व कमरे का किराया न दे पाने के कारण अंकिता के पिता विरेन्द्र अपने पूरे परिवार को पौड़ी से लेकर अपने गांव लौट आए थे।

अभी तक मिल रही जानकारी के मुताबिक अंकिता ने पौड़ी के एक प्रतिष्ठित स्कूल से इंटरमीडिएट की पढ़ाई पूरी करने के उपरांत देहरादून से होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया था। जिसके बाद अंकिता परिवार का खर्चा उठाने के लिए खुद नौकरी की तलाश में भटकने लगी। कुछ ही समय पहले उसने गंगा भोगपुर स्थित वनंत्रा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट के पद पर नौकरी ज्वाइन की थी। परंतु आज उसकी हत्या ने न केवल पूरे परिवार पर दुखों का पहाड़ तोड़ दिया है बल्कि इस घटना के बाद से पहाड़ की हर बेटी खुद को असुरक्षित महसूस कर रही है।

पूरा आर्टिकल पढ़ने के लिए बहुत बहुत सुक्रिया हम आशा करते है कि आज के आर्टिकल Ankita Bhandari Murder case से जरूर कुछ सीखने को मिला होगा, अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया है तो इसे शेयर करना ना भूले और ऐसे ही अपना प्यार और सपोर्ट बनाये रखे THEHALFWORLD वेबसाइट के साथ चलिए मिलते है नेक्स्ट आर्टिकल में तब तक के लिए अलविदा, धन्यवाद !