सर्वाइकल कैंसर से भारत में हर साल लगभग 75 हज़ार महिलाओं की मौत हो जाती हैं

0
650

भारत में बिमारियों बढ़ती जा रही है भारत में कैंसर एक आम बीमारी की तरह फैलता जा रहा है इसमें से सर्वाइकल कैंसर महिलाओं को ही होता है। इस समय भारतीय महिलाओं में कैंसर से होने वाली मौत का सबसे आम कारण सर्वाइकल कैंसर है। बिमारियों की वजह से होने वाली मौतों में सर्वाइकल कैंसर दूसरे स्थान पर आता है। एक रिसर्च के मुताबिक 16 से 30 वर्ष की महिलाओं को सबसे ज़्यादा सर्वाइकल कैंसर का खतरा रहता है और इससे हर साल लगभग 75 हज़ार महिलाओं की मौत हो जाती हैं और जो जल्दी सचेत हो जाती है उनकी जान दवाइयों से बच जाती है।

इस बीमारी का कारण महिलाओं में पाया जाने वाला एचपीवी (ह्यूमन पेपीलोमा वायरस) है। जो जल्दी ही ठीक हो जाता है लेकिन गंभीर रूप लेने पर सर्वाइकल कैंसर का रूप ले लेता है। इस कैंसर में उम्र का प्रभाव काफी अधिक रहता है 16 से 30 साल (14 फीसदी) आयु वर्ग की महिलाओं में एचपीवी उच्चतम स्तर पर रहता है जिसमें सर्वाइकल कैंसर की संभावना ज्यादा रहती है और उम्र बढ़ने पर इसका खतरा कम होता जाता है। भारत में सर्वाकल का खतरा बढ़ता जा रहा है।