शराब के ठेके हटाने के लिए हुई महिला पंचायत

0
605

आए दिन सड़क दुर्घटना होती ही रहती है उनको रोकने, स्वास्थ्य सेवाओं और बस अड्डा के पास में शराब के ठेके को हटाने के लिए महिलाएं एकजुट हो गई हैं। संगड़ाह में महिला पंचायत में करीब 6 गांवों की महिलाओं ने भाग लेकर विभिन्न समस्याओं पर विचार किया। उपमंडल संगड़ाह की सड़कों पर वाहन हादसों में पिछले छह वर्षों में करीब 116 लोगों की जान जाने के बाद भी क्षेत्र में हो रहे वाहन हादसे को रोकने के उपाय नहीं किए गए हैं। पंचायत सभागार में आयोजित इस विशेष बैठक में संगड़ाह अस्पताल में चार चिकित्सकों की जगह एक ही चिकित्सक होने पर चिंता जाहिर की गई। महिलाओं ने कहा कि एक ही चिकित्सक होने की वजह से वह 24 घंटे सेवाएं देने को मजबूर है।

शराब के ठेके को कस्बे से बाहर किए जाने की बात को लेकर भी महिला पंचायत में रणनीति बनाई गई। पिछले शनिवार को संगड़ाह-रेणुकाजी मार्ग पर दुर्घटनाग्रस्त स्कूल बस में 8 लोगों की मौत की जिम्मेदारी को लेकर सिर्फ मृतक चालक पर एफआईआर दर्ज किए जाने पर भी महिलाओं में नाराजगी जताई। इन सभी मुद्दों को लेकर अगले महीने क्षेत्र की महिलाएं संगड़ाह में प्रदर्शन करेंगी।  महिला समिति की प्रदेश अध्यक्ष संतोष कपूर ने कहा कि फरवरी में होने वाले प्रदर्शन की तिथि बाद में तय की जाएगी।