रीती रिवाह की वजह से गई एक महिला की जान

0
1065

प्रथायें और रीती रिवाह की वजह से लोगों की जान जाना समाज में आम बात हो गई है । ऐसा ही नेपाल के एक गांव में हुआ है ।  जिसमे एक महिला की जान ‘छाउपडी’ प्रथा के कारण चली गई ।

 

क्योंकि ‘छाउपडी’ प्रथा में माहवारी से गुजर रही महिला को उसके घर से दूर एक एकांत झोपड़ी में रहने को मजबूर किया जाता है । कुछ दिन पहले नेपाल के अछाम जिले के तुरमाखाद में गौरी नामक महिला को माहवारी के दौरान गांव के बहार एक झोपड़ी में रहने के लिए छोड़ दिया गया था ।  और सुबह उसे उसके पड़ोसियों ने मृत पाया ।

 

ग्रामीणों ने बताया, की गौरी ने झोपड़ी के भीतर आग जलाई थी उसके धुएं से दम घुट कर उसकी मौत हो गई । नेपाल के कई समुदाय माहवारी से गुजर रही महिलाओं को अशुद्ध मानते हैं । इसलिए महिलाओं को घर से दूर रखते है । इस प्रथा को नेपाल में गैर क़ानूनी घोषित कर रखा है फिर भी लोग ऐसी प्रथा को मानते है ।