मायावती ने लगाया था यौन शोषण आरोप, जांच के लिए मैं तैयार- शिवपाल यादव

0
941
मायावती
UP Election

लखनऊ गेस्ट कांड अर्थात यौन शोषण के मामले में शिवपाल यादव ने मायावती पर हमला बोला है. तथा कहा है कि मैं जांच के लिए तैयार हूँ परन्तु मायावती जी की भी जांच होनी चाहिए.

इससे पहले उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव और मायावती ने यूपी में ज्यादा से ज्यादा सीट जीतने के लिए बसपा-सपा का गठबंधन कर लिया है. साथ ही मायावती ने यह कहकर गठबंधन का ऐलान किया है कि उन्होंने देशहित में लखनऊ गेस्ट कांड का मुद्दा किनारे पर कर दिया है. जिससे विवाद पैदा हो गया है.

New link –महिलाओं का ऑफिस में यौन उत्पीड़िन की शिकायत के लिए ऑनलाइन प्लैटफॉर्म 

शिवपाल सिंह यादव ने मायावती पर लखनऊ गेस्ट कांड को लेकर हमला बोला है. साथ ही अपने आप को सही साबित करने के लिए जांच के लिए तैयार होने की बात कही है.

अपनी प्रतिक्रिया देते हुए, 1995 लखनऊ गेस्ट हाउस कांड पर शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि ‘बहन जी ने मुझ पर यौन शोषण का आरोप लगाया था.

मैंने कहा था कि मैं जांच के लिए तैयार हूं, मैं नार्को टेस्ट के लिए तैयार हूं. मेरी शर्त यह है कि नार्को टेस्ट बहन जी का भी होना चाहिए मेरा भी होना चाहिए.’ गौरतलब है कि चंदौली के सकलडीहा में बुधवार को जनसभा को संबोधित करते हुए शिवपाल सिंह यादव ने यह बात कही.

बसपा-सपा गठबंधन

बसपा-सपा अब उत्तर प्रदेश की 38-38 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. बीते दिनों लखनऊ में साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती ने यह कहकर गठबंधन का ऐलान किया कि उन्होंने देशहित में लखनऊ गेस्ट कांड का मुद्दा किनारे रख दिया. जिसके बाद, अब 1995 लखनऊ गेस्ट हाउस कांड पर अखिलेश के चाचा शिवपाल सिंह यादव की प्रतिक्रिया आई है.

इस गठबंधन से कांग्रेस को भी झटका लगा है क्योंकि कांग्रेस राष्ट्रीय स्तर पर महागठबंधन की कोशिशों में जुटी है.

गौरतलब है कि इससे पहले समाजवादी पार्टी से अलग होकर नयी पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव ने सपा-बसपा के गठबंधन पर हमला करते हुए रविवार को कहा कि सीबीआई के डर से यह गठजोड़ तैयार हुआ है.