महिला होने की वजह से नहीं कर सकी बिजनेस

0
645
लोग आज भी औरतों की जिंदगी को घर तक ही सिमित रखना चाहते है। उनको बाहर निकलकर जॉब या बिजनेस करने की आजादी नहीं है । ऐसा वाक्या आरती के साथ हुआ है वो अलीगढ़ में चार साल तक टिफिन सेंटर का बिजनेस करती थी ।
आरती घर का पूरा ख़र्च उठाती थी पति की कमाई से सेविंग हो जाती थी। पर एक दिन आरती के जेठ का परिवार और सास उनके पास रहने आ गए। उनको इस काम से दिक्क्त होने लगी। उनका कहना था कि ये बिजनेस ठाकुरों के स्टेटस के बराबर नहीं है। और टिफिन सेंटर को बंद कर दिया।
आरती के आलावा ऐसी कहीं महिलायें है जिनके साथ ऐसा होता है। जो बिजनेस या जॉब करना चाहती है मगर घर वालों या समाज के दबाव से नहीं कर पाती है ।