निर्भया कोष के अंतर्गत शुरू होगा महिला सुरक्षा प्रोजेक्ट कवच….

0
593

कानपूर : महिलाओं का सबसे पसंददीदा गुलाबी रंग अब शहर की महिलाओं व लड़कियों की सुरक्षा का ‘कवच’ बनने जा रहा हैं। प्रोजेक्ट कवच (महिला सुरक्षा) के अंतर्गत यूपी-100 के बेड़े में गुलाबी रंग की इनोवा को शामिल किया जा रहा है। पिंक यूपी-100 वाहन के लिए एकीकृत आधुनिकतम नियंत्रण कक्ष के साथ पिंक चौकी और महिला डेस्क बनाई जा रही है। साथ ही महिला पुलिसकर्मियों के लिए पिंक स्कूटी की व्यवस्था भी की जाएगी। इसके लिए निर्भया कोष के द्वारा 194.44 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। एसपी साउथ रवीना त्यागी को नोडल अफसर बनाया गया है।

पिंक यूपी-100 के वाहन महिला स्कूल, कोचिंग मंडी व बाजारों में सुबह 8 से 2 बजे तक खड़े रहेंगे। कोई भी महिला और लड़की यूपी 100 या थाना पुलिस के नंबर पर फोन कर सहायता मांग सकती है।

पिंक यूपी-100 (वाहन) कैमरे, जीपीएस, ऑडियो-वीडियो एनालिसिस सिस्टम से लैस होगा, जिससे उसमें सफर करने वाली महिलाओं को सुरक्षा का ध्यान रखा जा सके। सभी वाहनों का लिंक नियंत्रण कक्ष से किया जाएगा। जो आधुनिक इंटेलीजेंस से लैस होगा और उसकी लगातार मॉनिटरिंग होगी।

पिंक कवच के अंतर्गत महिलाओं की शिकायत पर पहुंचने वाली पिंक यूपी-100 की टीम में चालक से लेकर सुनवाई अधिकारी तक महिला पुलिस कर्मी होगी।

शहर में जिन जगहों पर महिला संबंधित अपराध होते हैं, उन्हें चिह्नित कर वहां स्पेशल लाइटिंग होगी, ताकि कोई अंधेरे का फायदा न उठा सके।

महिला सुरक्षा प्रोजेक्ट कवच के अंतर्गत यूपी-100 के बेड़े में पिंक इनोवा को शामिल किया जा रहा है। एडीजी डीके ठाकुर द्वारा इसके लिए यूपी-100 के निर्भया कोष के तहत व्यवस्था सुनिश्चत कराई है।