दूध पीला रही माँ के साथ पुलिस का शर्मनाक बर्ताव

0
907

मुंबई में पुलिस का एक शर्मनाक मामला सामने आया है। कार में बैठे मां और सात महीने के बच्चे को मुंबई यातायात पुलिस कार समेत लेकर चली गई। पुलिस का कहना है की कार गलत जगह खड़ी होने के कारण कार को उठाया गया, लेकिन इस दौरान कार की मालकिन और उसका बच्चा कार में मौजूद थे।

 

यातयात पुलिस ने मालाड एसवी रोड पर एक गाड़ी को उठा लिया जिसमें एक महिला उसके सात माह के बच्चे के साथ सवार थी और बच्चे को दूध पिला रही थी। ट्रैफिक पुलिस के कांस्टेबल उन्हें उतारे बिना ही गाड़ी उठाकर ले गया।

इस तरह बच्चे के साथ मां को कार समेत ले जाने का वीडिया फेसबुक पर पोस्ट किया गया है। जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

महिला ने आरोप लगाया है कि उसका बच्चा बीमार था और उसकी गाड़ी के आगे दो और गाड़ियां खड़ीं थीं लेकिन उनको पुलिस ने कुछ नहीं किया।

जैसा कि हम वीडियो में देख सकते है कि महिला चिल्ला-चिल्लाकर पुलिसवालों से धीरे चलने को कह रही है। घबराई महिला मदद के लिए गुहार लगा रही है। जॉइंट कमिश्नर ने इस मामले में डीसीपी यातायात पश्चिम को मौके पर पहुंचने का आदेश दिया। ज्वाइंट कमिश्नर ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं और रविवार तक रिपोर्ट तलब की है।

 

पब्लिक में पुलिस कि छवि

पुलिस का ऐसा व्यवहार हमें रोज देखने को मिल रहा है। पुलिस कानून व्यवस्था को सही बनाने कि बजाय कभी-कभी मानवीयता को शर्मसार करती नजर आ रही है। लोगों में पुलिस कि छवि पहले से ही डरवानी व रूढ़ बनी हुई है और रोज कि इस तरह कि घटनायें पुलिस को और बदनाम कर रही है।