एम्बुलैंस अधिकारियो की लापरवाहीं से महिला की हुई मौत…

0
594

शिमला: एम्बुलैंस में ऑक्सीजन न आने के कारण एक महिला की मौत हो गई। महिला के.एन.एच. में चतुर्थ श्रेणी पद पर कार्य करती थी। महिला को बहुत समय से हार्ट की बीमारी थी। महिला को दर्द के दौरान जब महिला को एम्बुलैंस से उपचार के लिए के.एन.एच. से आई.जी.एम.सी. लाया जा रहा था तो महिला को सांस लेने में काफी परेशानी आ रही थी। इस दौरान एम्बुलैंस में एक भी वैंटीलेटर मौजूद नहीं था, ऐसे में महिला को ऑक्सीजन नहीं मिल सका।

परिजनों ने आरोप लगाते हुए कहा कि अगर महिला को ऑक्सीजन मिल जाती तो शायद उसकी जान बच सकती थी। 32 वर्षीय लीला नामक यह महिला चौपाल की निवासी है। बताया जा रहा है कि इसके चलते एम्बुलैंस में कार्यरत कर्मचारियों ने महिला को बचाने की बहुत कोशिश की लेकिन महिला को बचा नहीं पाए।

महिला के मृत शरीर को जब आई.जी.एम.सी. में रखा गया था तो उस दौरान परिजनों ने इसका विरोध किया। प्रदेश में बहुत सारी एम्बुलैंस ऐसी हैं, जिनमें वैंटीलेटर नहीं है। एम्बुलैंस चलाने वाली कंपनी के अधिकारीयो का कहना है कि जब सरकार ने बिना वैंटीलेटर के ही एम्बुलैंस को हमें सौंपा है तो इसमें हमारी कोई गलती नहीं है। परिजनों ने सरकार से मांग की है कि महिला की मौत पर सख्त कार्रवाई की जाए।

108 शिमला के प्रोग्रामर ऑफिसर आकाशदीप ने कहा कि हमें यह जानकारी मिली थी कि एम्बुलैंस में वैंटीलेटर न होने से महिला को ऑक्सीजन नहीं मिल पाई, जिसके कारण महिला की मौत हो गई है। शिमला में वैंटीलेटर वाली सिर्फ दो ही एम्बुलैंस थीं जो कि उस समय किसी केस को लेकर गई थीं, ऐसे में बिना वैंटीलेटर वाली एम्बुलैंस में ही महिला को आई.जी.एम.सी. ले जाया गया।