इस कांग्रेस विधायक पर लगाए युवती ने छेड़छाड़ का आरोप, वीडियो हुआ वायरल…

0
901
डाॅ. राजकुमार शर्मा

जयपुर:  पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस विधायक डाॅ. राजकुमार शर्मा पर लगे प्रताड़ना एवं छेड़छाड़ के आरोपों के मामले में सीआईडी-सीबी जल्द ही अपना अनुसंधान का निर्णय दे सकती है। सीआईडी अब उन 5 वायरल ऑडियो की जांच करने में जुटी है जिसमें कुछ कांग्रेसी नेता भी इस मामले में शामिल है। सीआईडी-सीबी ने युवती से आरोपों को लेकर सबूत एवं अन्य जानकारियां मांगी है। इसके बावजूद भी एक महीनें बाद भी युवती ने पुलिस को साक्ष्य नहीं सौंपे हैं। अब पुलिस इस मामले को अंतिम रूप देने में लगी हुई है। जांच में आरोप साबित नहीं होते है तो शर्मा के लिए बड़ी राहत वाली खबर होगी। यह मामला विधानसभा चुनाव के वक्त सामने आया। इसलिए भी पुलिस इस मामले में फूंक-फूंक पर कदम रख रही है। पुलिस ने सियासत में साजिश की संभावना से भी इनकार नहीं किया है।
डाॅ. राजकुमार शर्मा के खिलाफ युवती ने नवलगढ़ थाने में प्रताड़ना एवं छेड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया। इसके चलते कांग्रेस नेता एवं एक युवती के बीच हुई बातचीत के पांच वीडियो वायरल हुए। इसमें कांग्रेस नेता ने स्वयं के फायदे के लिए राजकुमार को फंसाने की बात कह रहे हैं। इसमें 2 करोड़ रुपए के लेनदेन की बातचीत भी है। आने वाले दिनों में इससे कई और राज सामने आ सकते हैं।
पुलिस ने नवलगढ़ में मुकेश चिरानिया के आत्महत्या के प्रयास को भी संदिग्ध माना है। चिरानिया ने नवलगढ़ में घर पर फांसी लगाकर सुसाइड करने की कोशिश की। समय पर उसकी मां ने उसको बचा लिया। मुकेश ने दीवार पर राजकुमार को इसके लिए जिम्मेदार ठहराने की बात लिखी थी। पुलिस अनुसंधान में सामने आया है कि यह युवक भी युवती का ही परिचित था। इसलिए मामला संदेह के दायरे में है।

पीड़ित युवती का कहना हैं कि राजकुमार मेरे पिता का विरोधी है। वह और उसके लड़के मुझे फॉलो करते है। पहली बार में उसके क्वार्टर पर मिली थी, जहां उसने मुझसे छेड़छाड़ की थी। उसने मुझे आरएएस मेंस में भी फेल करा दिया। उसने थाने में एक बुजुर्ग के लात मारी थी। मैं उसे विधायक नहीं देखना चाहती थी। इसलिए सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर किए।

इस पर राजकुमार शर्मा का कहना है कि थाने में उसके पिता आए थे। तब कुछ लोगों ने उसके साथ धक्का-मुक्की कर दी थी। इसके पिता दो बार चुनाव हार गए है। इस कारण युवती मानती है कि मैने उसके पिता का कॅरियर खराब कर दिया। पुल जांच कर रही है। जांच में सच्चाई सामने आ जाएगी।