आज सुनवाई होने के कारण सुधा भारद्वाज के घर की सुरक्षा बड़ा दी गई है।

0
821

पिछले सप्ताह पुलिस ने पांच सामाजिक कार्यकर्ताओं को गिरप्तार कर लिया था। आज उनकी दूसरी सुनवाई है। इनमे से एक सुधा भारद्वाज को भीमा कोरेगांव हिंसा मामले में 28 अगस्त को महाराष्ट्र पुलिस ने गिरफ्तार किया था। महाराष्ट्र पुलिस ने उन्हें जिला अदालत में पेश कर पुणे ले जाने के लिए ट्रांजिट रिमांड की मांग की थी। मगर उनके वकीलों में हाईकोर्ट में याचिका लगाई, जिस पर अदालत ने उन्हें दो दिन घर में ही नजरबंद रखने के आदेश दिए। मगर अगले ही दिन सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में गिरफ्तार सभी आरोपियों को छह सितंबर तक नजरबंद रखने के आदेश दे दिए। आज सुनवाई होने के कारण सुधा भारद्वाज के घर की सुरक्षा बड़ा दी गई है।