अब जर्मनी चांसलर एंजेला मार्केल का निजी डेटा लीक

0
565
निजी डेटा लीक

जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल का निजी डेटा लीक होने का मामला सामने आया है। यदि जर्मनी मीडिया की माने तो इस डेटा को ट्विटर अकाउंट @_Orbit पर लीक किया गया था, जिसे बाद में सस्पेंड कर दिया गया है।

जर्मनी की चांसलर एंजेला मार्केल के अलावा राष्ट्रपति फ्रैंक-वॉल्टर स्टीनमायर का डेटा भी लीक होने का दावा किया जा रहा है तथा उनके अलावा 100 से ज्यादा राजनेताओं, सेलेब्रिटी, पत्रकारों का निजी डेटा लीक होने का मामला सामने आया है। इन डेटा में फोन नंबर, ईमेल के अलावा डेटा तथा निजी पिक्चर समेत कई तरह की जानकारी लीक होने का अंदेशा है।

जर्मनी के आंतरिक मंत्री सीहोफर ने बताया कि डेटा क्लाउड सर्विस, ईमेल एड्रेस या सोशल नेटवर्क के गलत उपयोग के जरिए हैक किया गया था। जर्मनी में हुए अब के सबसे बड़े डेटा लीक का आरोप वहां की दक्षिणपंथी पार्टी के साथ-साथ रूस पर भी लग रहा है। जर्मन साइबर सिक्योरिटी एनालिस्ट स्वेन हर्पीग ने बीबीसी को बताया कि, चुनावों में दखलंदाजी का आरोप रूस पर लगता रहा है। उन्होंने बताया कि रूस पर पहले भी जर्मनी में साइबर अटैक करने का आरोप लगा है। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि इस अटैक में दक्षिणपंथी पार्टी के किसी भी नेता को टारगेट नहीं किया था, लिहाजा हो सकता है कि इसके पीछे दक्षिणपंथी पार्टी का हाथ हो।

खुफिया एजेंसियों का मानना है कि इस हैकिंग में रूसी हैकर्स का हाथ हो सकता है। इस डेटा लीक को जर्मनी का अब तक का सबसे बड़ा डेटा लीक बताया जा रहा है। जर्मनी के आईटी सिक्योरिटी के अधिकारियों का कहना है कि इस मामले की गहराई से जांच की जा रही है। अधिकारियों ने ये भी कहा है कि फिलहाल सरकारी नेटवर्क को किसी भी तरह का खतरा नहीं है।

बार-बार हर जगह सोशल मीडिया तथा अन्य माध्यम से डेटा है लीक होना आम बात होती जा रही है तथा यह चिन्ता का विषय भी बनती जा रही है ।